scriptWomen on the road in protest against the liquor shop | शराब दुकान के बाहर उमड़ी महिलाओं की भीड़, तो प्रशासन को छूटा पसीना | Patrika News

शराब दुकान के बाहर उमड़ी महिलाओं की भीड़, तो प्रशासन को छूटा पसीना

जैतवारा में विरोध: नारेबाजी करते हुए पहुंचीं तहसील कार्यालय

सतना

Published: March 29, 2022 02:16:53 am

सतना. जैतवारा में प्रस्तावित शराब दुकान के खिलाफ महिलाओं ने मोर्चा खोल दिया है। सोमवार को महिलाएं सड़क पर उतरीं और तहसील कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन करते हुए कहा कि बस्ती के अंदर किसी कीमत पर शराब दुकान नहीं खुलने देंगे। यहां शराबियों का जमावड़ा लगने लगेगा और हमारा रहना दूभर हो जाएगा।
Women on the road in protest against the liquor shop, said they will not allow it to open at any cost
Women on the road in protest against the liquor shop, said they will not allow it to open at any cost
नगर परिषद के वार्ड-3 स्थित चिल्ला में 1 अप्रैल से नई शराब दुकान खोलने की तैयारी है, लेकिन रहवासी सहमत नहीं हैं। सोमवार को महिलाओं ने चिल्ला से तहसील कार्यालय और थाने तक नारेबाजी करते हुए पैदल मार्च कर तहसीलदार अजीत तिवारी को ज्ञापन देकर शराब दुकान को अन्यत्र खोलने की मांग की। महिलाओं के अनुरोध पर तहसीलदार वहां गए, जहां दुकान खोली जानी है। तहसीलदार व सहायक आबकारी निरीक्षक को दिखाया गया कि बस्ती व रेललाइन के बीच शराब दुकान खुलने से आपराधिक घटनाएं बढ़ जाएंगी। शराबियों का दिनभर जमावड़ा लगा रहेगा। इससे हम लोगों का घरों से निकलना दूभर हो जाएगा।

खुटहा रोड से बस्ती पहुंचा ठेका
वर्तमान में जैतवारा की शराब दुकान खुटहा रोड पर है। नया ठेका मारकुंडी निवासी कमलेश त्रिपाठी को मिला है। वह चिल्ला में दुकान शिफ्टिंग की तैयारी कर रहा है। इसे देख महिलाओं का गुस्सा भड़क उठा। बड़ी संख्या में जिस तरह महिलाएं विरोध करने पहुंचीं, उसे देख प्रशासन भी हैरान हो गया। टीआइ सुरभि शर्मा ने बताया कि महिलाओं ने थाने में भी शिकायत की है।

जिला मुख्यालय व कोठी में भी विरोध
शराब दुकानों का विरोध नया नहीं है। इसके पहले जिला मुख्यालय स्थित जयस्तंभ चौक की शराब दुकान के खिलाफ भी व्यापारी लामबंद हुए थे। वहीं कोठी में स्कूल के पास शराब दुकान खोले जाने का भी विरोध हुआ। लोगों का तर्क है कि कस्बे में शांतिप्रिय लोग रहते हैं, ऐसे में खुलेआम शराब बिक्री के कारण लोगों को खासी समस्या होगी। खासतौर पर महिलाओं को परेशानी होगी। स्कूल का नाम शिक्षा जगत में फैलना चाहिए न कि शराब बिक्री के कारण जगह का नाम बदनाम होना चाहिए। हालांकि अभी तक कोई निष्कर्ष नहीं निकल पाया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Thailand Open: PV Sindhu ने वर्ल्ड की नंबर 1 खिलाड़ी Akane Yamaguchi को हराकर सेमीफाइनल में बनाई जगहIPL 2022 RR vs CSK Live Updates: रोमांचक मुकाबले में राजस्थान ने चेन्नई को 5 विकेट से हरायासुप्रीम कोर्ट में अपने लास्ट डे पर बोले जस्टिस एलएन राव- 'जज साधु-संन्यासी नहीं होते, हम पर भी होता है काम का दबाव'ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनCBI रेड के बाद तेजस्वी यादव ने केंद्र सरकार पर कसा तंज, कहा - 'ऐ हवा जाकर कह दो, दिल्ली के दरबारों से, नहीं डरा है, नहीं डरेगा लालू इन सरकारों से'Ola-Uber की मनमानी पर लगेगी लगाम! CCPA ने अनुचित व्यवहार के लिए भेजा नोटिस, 15 दिन में नहीं दिया जवाब तो हो सकती है कार्रवाईHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.