12 से पहले सीट छोड़ रहे चिकित्सक!

गंगापुरसिटी . बारिश का दौर थमते ही मौसमी बीमारियों की बाढ़ सी आ गई है। हर रोज अस्पताल में मरीजों की संख्या में इजाफा होता नजर आ रहा है, लेकिन चिकित्सक इसे कतई गंभीरता से लेते नजर नहीं आ रहे। बुधवार को १२ बजे से पहले ही चिकित्सकों के सीट छोडऩे पर मरीजों को दिक्कत हुई। समय से पहले सीट छोडऩे के कारण बच्चे को दिखाने से वंचित रही महिला ने अस्पताल में शोरशराबा किया।

गंगापुरसिटी . बारिश का दौर थमते ही मौसमी बीमारियों की बाढ़ सी आ गई है। हर रोज अस्पताल में मरीजों की संख्या में इजाफा होता नजर आ रहा है, लेकिन चिकित्सक इसे कतई गंभीरता से लेते नजर नहीं आ रहे। बुधवार को १२ बजे से पहले ही चिकित्सकों के सीट छोडऩे पर मरीजों को दिक्कत हुई। समय से पहले सीट छोडऩे के कारण बच्चे को दिखाने से वंचित रही महिला ने अस्पताल में शोरशराबा किया।


राजकीय चिकित्सालय में बुधवार सुबह ११.५३ बजे से गायनी कक्ष एवं कमरा नंबर 11 सूना पड़ा रहा। यहां मरीज चिकित्सकों के इंतजार में बैठे रहे, लेकिन चिकित्सकों के नहीं आने से मरीजों को मायूस होकर लौटना पड़ा। पूरे समय तक यहां महज चिकित्सक एक चिकित्सक ही बच्चों को देखते हुए नजर आए। अन्य दो कक्षों में चिकित्सकों के नहीं होने के कारण एक चिकित्सक के पास मरीजों का अम्बार लगा रहा। चिकित्सक कक्ष में डॉक्टरों के नहीं मिलने से मरीज इधर-उधर भटकते नजर आए।


बिफर पड़ी महिला


शहर में कैलाश टाकीज के पास रहने वाली महिला रिजवाना ने १२ बजे चिकित्सक कक्ष के बाहर निकलते ही चिकित्सक नहीं मिलने पर शोर-शराबा शुरू कर दिया। इस पर मौजूद गार्ड ने उन्हें शांत कराते हुए समय से पहले आने की नसीहत दी। इस पर महिला बिफर गई और कहा कि वह सुबह १०.३० बजे से लाइन में लगी है। कुछ देर पहले चिकित्सक कक्ष से उठकर पैन लेने की बात कहकर गए थे, लेकिन १२ बजे तक नहीं लौटे। कुछ इसी तरह के आरोप शहर के ही अख्तर ने लगाए। मरीजों का आरोप था कि चिकित्सक घर पर फीस लेकर मरीजों को देखते हैं। ऐसे में अस्पताल में पूरा समय नहीं दे रहे। मजबूर मरीजों को अस्पताल में चिकित्सक नहीं मिलने के कारण उनके घर जाना पड़ रहा है।


इस मामले में प्रमुख चिकित्सा अधिकारी गंगापुरसिटी जी.बी. सिंह का कहना है कि आज हमारी मीटिंग थी। ऐसे में कुछ चिकित्सक हमारे साथ थे। कई बार दूसरे केस भी देखने चिकित्सक चले जाते हैं। फिर भी अव्यवस्था की बात है तो इसमें सुधार किया जाएगा। इसके लिए चिकित्सकों को पाबंद करेंगे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned