VIDEO : फसलों में करीब चालीस प्रतिशत का नुकसान, एक ही दिन में तापमान भी 11 डिग्री तक गिरा

Vijay Kumar Joliya

Publish: Apr, 17 2019 12:34:41 PM (IST) | Updated: Apr, 17 2019 12:34:42 PM (IST)

Sawai Madhopur, Sawai Madhopur, Rajasthan, India

सवाई माधोपुर. जिला मुख्यालय व आस-पास मंगलवार को हुई बारिश से किसानों को फसलों में भारी नुक सान हुआ है। मौसम में हुए अचानक बदलाव के साथ अंधड़ व बारिश आने से जिले में किसानों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। किसानों ने बताया कि बारिश के चलते गेहूं व चने की फसल में नुकसान हुआ है। बारिश रात तक रुक-रुककर चलती रही।


चालीस प्रतिशत तक हुआ नुकसान
किसान संघ के पदाधिकारियों की माने तो बारिश ब आंधड़ के कारण जिले भर में फसल में करीब 40 प्रतिशत तक का नुकसान उठाना पड़ा है। आंधड़ के कारण जहां किसानों का खांगला आदि उड़ गया वहीं गेंहू आदि की फसलें भी बारिश के कारण खेतों में गिर गईं।


मण्डी में भीगा अनाज
बारिश के चलते मंगलवार को कृषि उपज मण्डी में किसानों के जिंस भीग गए। हालांकि मण्डी में अब अनाज को बारिश से बचाने के लिए प्लेटफार्म तैयार किया गया है इसके बाद भी कई किसरानों का माल खुले में पड़ा होने के कारण भीग गया।


किसानों की यह है मांग
भारतीय किसान संघ के जिलाध्यक्ष लटूर सिंह ने बताया कि किसान संघ मुआवजे की रिपोर्ट को खेत के आधार पर तैयार करने की मांग सालों से कर रहा है। किसानों ने बताया कि कई बार सर्किल के एक गांव में बारिश के कारण नुकसान अधिक होता है तो दूसरे में कम। ऐसे में अधिक नुकसान वाले गांव के किसान को भी मुआवजे का लाभ नहीं मिल पाता है।


मित्रपुरा. कस्बे सहित क्षेत्र में दोपहर बाद अचानक मौसम बिगड़ गया। तेज हवा के साथ बूंदाबांदी हुई। इससे किसानों की चिंता बढ़ गई है। इन दिनों किसान फसल काटकर समेटने में लगे हैं।


पीपलवाड़ा. पंचायत पीपलवाड़ा, बागडोली, हथडोली, हिन्दपुरा, बांस की पुलिया, कोलाड़ा, निमोद राठौद में मौसम पलटने से गेहंू व सौंफ की फसल खराब हो गई। दिनभर आसमान में बादल छाने के बाद शाम को तेज अंधड़ के साथ झमाझम बारिश हुई। फसल भीगने से किसानों के चेहरे पर मायूसी छा गई।


बौंली. बौंली के दर्जनभर गांवों में मंगलवार को तेज अंधड़ के बाद तेज बारिश हुई। करीब पंद्रह मिनट सुबह व 20 मिनट शाम को चले बारिश व तेज हवाओं से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। कई किसानों की फसल अभी भी खेतों में होने से नुकसान की भी आशंका जताई जा रही है।


भाड़ौती. कस्बे सहित क्षेत्र में मंगलवार दोपहर बाद तेज अंधड़ शुरू हो गया। देखते ही देखते कहीं जगह टीन टप्पर उड़ गए, तो कहीं पेड़ धराशायी हो गए। लालसोट कोटा मेगा हाइवे पर कहीं जगह दर्जनों पेड़ सड़क पर गिर गए। अंधड़ के बाद बारिश शुरू हो गई, जो कभी तेज तो कभी रिमझिम देर शाम तक बरसती रही। किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें छाई रही। अंधड़ व बारिश के चलते देर रात तक कस्बे सहित क्षेत्र में बिजली गुल रही।

पीपलदा. कस्बे सहित क्षेत्र में मंगलवार शाम करीब साढ़े चार बजे बाद धूलभरी आंधी चली। इस दौरान रिमझिम बारिश भी हुई। इससे गेहूं की फसल को भी नुकसान हुआ। किसानों ने बताया कि सुबह बूंदाबांदी हुई थी। इसके बाद शाम करीब साढ़े चार बजे अचानक धूलभरी हवा चली। साथ ही रिमझिम बारिश शुरू हुई, जो करीब दस मिनट तक जारी रही।

  • मैं अभी छुट्टी पर हूं। ऐसे में फसलों में नुकसान की जानकारी नहीं है। जल्द ही नुकसान की रिपोर्ट तैयार कराई जाएगी।
    पीएल मीणा, उपनिदेशक, कृषि विस्तार, सवाईमाधोपुर।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned