अयोध्या विवाद मामला: दूसरे दिन भी पुलिस सतर्क, तैनात रहा जाप्ता

अमन की अपील: अधिकारियों ने शहर में किया दौरा, शांति का माहौल

गंगापुरसिटी. सर्वोच्च न्यायालय की ओर से अयोध्या मामले में फैसले के मद्देनजर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस व प्रशासन रविवार को दूसरे दिन भी सतर्कं रहा। रविवार को शनिवार की भांति ही शहर में प्रमुख स्थानों पर पुलिस जाप्ता तैनात रहा। पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने पुलिस जाप्ता के साथ शहर का भ्रमण की स्थिति का जायजा लिया। रविवार को क्षेत्र में अमन-चैन व शांति कायम रही।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिव भगवान गोदारा ने बताया कि शहर के प्रमुख व संवेदनशील स्थानों पर २४ घंटे पुलिस व एसटीएफ जवान तैनात है।फव्वारा चौक, जामा मस्जिद, कैलाश टाकिज, मदीना मस्जिद, ट्रक यूनियन, घास मंडी, ईदगाह मोड, उदेई मोड आदि स्थानों पर पुलिस जाप्ता तैनात है। साथ ही लगातार निगरानी की जा रही है। अतिरिक्त जिला कलक्टर नवरत्न कोली ने बताया कि आपात स्थिति के लिए एम्बुलेन्स व दमकल की व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि रविवार को क्षेत्र में पूरी तरह से शांति रही।

निकाला फ्लैग मार्च
शांति व्यवस्था के मद्देनजर रविवार शाम को फ्लैग मार्च निकाला गया। फव्वारा चौक से जामा मस्जिद, होते हुए ट्रक यूनियन तक फ्लैग मार्च निकाला गया। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिव भगवान गोदारा, उपखंड अधिकारी बिजेन्द्र मीना, पुलिस उपाधीक्षक किशोरीलाल, तहसीलदार ज्ञानचंद जैमन, कोतवाली थाना प्रभारी हरजीलाल सहित पुलिस व एसटीएफ जाप्ता साथ था। इससे पहले सुबह अतिरिक्त जिला कलक्टर कोली, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोदारा, उपखंड अधिकारी मीना, पुलिस उपाधीक्षक किशोरीलाल ने पुलिस व एसटीएफ जवानों के साथ बाइपास, मिर्जापुर, ईदगाह, ट्रक यूनियन, फव्वारा चौक, उदेई मोड़ आदि क्षेत्र का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया।

इस दौरान उन्होंने नागरिकों से संवाद भी किया। अफवाहों की रोकथाम के लिए प्रशासन के निर्देश पर रविवार को दूसरे दिन भी मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद रही। हालांकि इस दौरान बीएसएनएल की ब्रांडबैंड सेवा जारी रही। गौरतलब है कि प्रशासन के निर्देश पर शनिवार सुबह १० बजे बीएसएनएल सहित निजी मोबाइल कम्पनियों की इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई थी। इससे लोगों को काफी परेशान होना पड़ा। हालांकि बाद में शनिवार रात करीब ८ बजे से ब्राडबैंड सेवा शुरू कर दी गई थी। सोमवार को स्कूल भी खुलेंगे।

अयोध्या मामले में सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के मद्देनजर लागू की गई धारा 144 एवं इंटरनेट सेवाओं पर लगी रोक को रविवार की शाम को हटा दिया गया। जिला कलक्टर डॉ.एसपीसिंह ने बताया कि जिले में कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने व आपसी सद्भाव कायम रखने के लिए लागू की गई धारा 144 एवं इंटरनेट सेवाओं पर लगाई गई रोक को तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दिया गया है। हालांकि सभी 14 ड्यूटी मजिस्ट्रेट अग्रिम आदेश तक अपने स्थान पर कार्य करते हुए लगातार मानीटरिंग एवं निगरानी करते रहेंगे।

धारा 144 हटाई, इंटरनेट सेवाएं बहाल
अयोध्या मामले में सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के मद्देनजर लागू की गई धारा 144 एवं इंटरनेट सेवाओं पर लगी रोक को रविवार की शाम को हटा दिया गया। जिला कलक्टर डॉ.एसपीसिंह ने बताया कि जिले में कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने व आपसी सद्भाव कायम रखने के लिए लागू की गई धारा 144 एवं इंटरनेट सेवाओं पर लगाई गई रोक को तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दिया गया है। हालांकि सभी 14 ड्यूटी मजिस्ट्रेट अग्रिम आदेश तक अपने स्थान पर कार्य करते हुए लगातार मानीटरिंग एवं निगरानी करते रहेंगे।

जिले में इंटरनेट की सेवाएं शुरू होने के बाद सोशल मीडिया पर गलत पोस्ट, कमेंट या शेयर करने वालों के खिलाफ आईटी एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। कोई भी व्यक्ति सोशल मीडिया पर धार्मिक भावनाओं को ठेस नहीं पहुंचाए।
सुधीर चौधरी, जिला पुलिस अधीक्षक, सवाईमाधोपुर

जिलेभर में दूसरे दिन रविवार को भी शांतिपूर्ण माहौल रहा। दिनभर जिले में सुबह से शाम तक सामान्य स्थितियां बनी रही। सोशल मीडिया पर कोई भी गलत, पोस्ट या कमेंट नहीें करें। शांति व भाईचारा बना रहे।
डॉ.सत्यपालसिंह, जिला कलक्टर, सवाईमाधोपुर

Arun verma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned