हनुमान मंदिर में घुसा भालू, ग्रामीणों ने नहीं करने दिया ट्रेंकुलाइज

हनुमान मंदिर में घुसा भालू, ग्रामीणों ने नहीं करने दिया ट्रेंकुलाइज
मंदिर में हुए नुकसान के मुआवज की मांग पर अड़े
दो घंटे समझाइश के बाद माने

By: rakesh verma

Updated: 04 Oct 2021, 09:13 PM IST

हनुमान मंदिर में घुसा भालू, ग्रामीणों ने नहीं करने दिया ट्रेंकुलाइज
मंदिर में हुए नुकसान के मुआवज की मांग पर अड़े
दो घंटे समझाइश के बाद माने
खण्डार. रणथम्भौर नेशनल पार्क से सटी ग्राम पंचायत गोठबिहारी के समीप खण्डार नायपुर रोड पर इच्छापूर्ण हनुमान मंदिर परिसर में रविवार भालू घुस गया। इससे वहीं पूजा कर रहे लोगों में हड़कंप मच गया। ग्रामीण बंटी माली, रामावतार मथुरिया, शंभू आदि लोगों ने बताया कि परिसर में घुसने के बाद भालू प्रमुख मंदिर में घुस गया। इसके बाद अपनी सूझबूझ से लोगों ने मंदिर परिसर में भालू के घुसने के बाद ताला जड़ दिया और वन विभाग के उच्च अधिकारियों को सूचना दी। इस पर सोमवार सुबह करीब 8 बजे वन विभाग की रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंच गई। लेकिन ग्रामीणों ने भालू का रेस्क्यू नहीं करने दिया। भालू के द्वारा किए गए नुकसान की भरपाई की मांग की ।
ग्रामीणों व वनकर्मियों में हुआ विवाद
पूर्व पंचायत समिति सदस्य चुन्नी लाल गुर्जर ने बताया कि ग्रामीण मंदिर परिसर में हुए नुकसान का मुआवजा की मांग पर अड़ेे थे। वन विभाग की रेस्क्यू टीम को भालू को रेस्क्यू नहीं करने दिया। इसके बाद वन विभाग के कर्मचारी एवं रेस्क्यू टीम खंडार थाने पर पहुंचकर पूरे घटनाक्रम के बारे में पुलिस को अवगत कराया। पुलिस मौके पर पहुंची और करीब दो घंटे तक समझाइश की गई। पुलिस के समझाने व नुकसान का मुआवजा दिलाने की आश्वासन दिया। इस पर ग्रामीणों ने वनकर्मियों को मंदिर का ताला खोलने दिया।

rakesh verma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned