भाजपा दो धड़ों में बंटी

सक्रिय कार्यकर्ता दरकिनार...
भाजपा कार्यकर्ताओं ने प्रदेश महामंत्री को सौंपा ज्ञापन, जताया विरोध

By: Shubham Mittal

Published: 10 Nov 2017, 12:10 AM IST

सवाईमाधोपुर. यहां गौतम आश्रम में बुधवार रात को भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री चन्द्रशेखर जोशी की अध्यक्षता में भाजपा कार्यकर्ताओं की बैठक हुई। इसमें कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया। कई भाजपा कार्यकर्ताओं ने सक्रिय कार्यकर्ताओं को दरकिनार करने का आरोप लगाया। वहीं संगठन महामंत्री ने पदाधिकारियों की क्लास ली। इस संबंध में कार्यकर्ताओं ने भाजपा प्रदेश महामंत्री को ज्ञापन सौंपकर शिकायत की है।

 

 


इसमें पदमुक्त व पूर्व नगर मण्डल मंत्री हरीश, उपाध्यक्ष हरिमोहन जाट आदि ने बताया कि वे भाजपा मण्डल में लंबे समय से कार्य कर रहे है। पदाधिकारी सक्रिय कार्यकर्ताओं को संगठन से दरकिनार कर मनमानी कर रहे है। जिससे पूरे जिले में संगठन हित में गलत संदेश जा रहा है और स्थिति यह नजर आती है कि सवाईमाधोपुर में भाजपा दो धड़ों में बंटी नजर आ रही है। उन्होंने बताया कि छोटा कार्यकर्ता असमंजस की स्थिति में है। दीनदयाल स्मृति मंच ने गणेश मेले में यात्रियों के लिए भण्डारे लगाए। इसमें पार्टी के हॉर्डिंग्स, पोस्टर लगाकर संगठन हित में पार्टी का प्रचार किया था।

 

 


इसमें भाजपा के वरिष्ठ सक्रिय कार्यकर्ताओं ने बढ़चढ़कर भाग लिया। इसमें नाराज होकर बजरिया मण्डल अध्यक्ष ने जिलाध्यक्ष के इशारे पर कर्मठ कार्यकर्ताओं को बाहर का रास्ता दिखा दिया। कार्यकर्ताओं ने पदाधिकारियों से जानकारी चाही तो उन्होंने कहा कि आप दीनदयाल स्मृति मंच के किसी भी कार्यक्रम में भाग लेंगे या उनके सम्पर्क में रहेंंगे तो भाजपा में नहीं रहेंगे। इस विषय को लेकर विधायक ने पदाधिकारियों को खरी खोटी सुनाई।

 

 


उन्होंने कोई ध्यान नहीं दिया व एकजुट रहने का आग्रह किया। इससे संगठन दो धड़ों में बंटा हुआ है। पार्टी के वर्षों पुराने पदाधिकारी जो स्मृति मंच के माध्यम से राष्ट्रवादी विचारधारा के लोगों को पार्टी से रखने का कार्य कर रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा छोटे कार्यकर्ताओं को दरकिनार कर संगठन में नए-नए कांग्रेसियों को पदाधिकारी बनाकर छवि खराब कर रही है।

 

 

 

जाम हुई सड़कें, प्रशासन को करनी पड़ी मशक्कत

चौथ का बरवाड़ा ञ्च पत्रिका. कस्बे में बलरिया मार्ग के गेट संख्या 14 पर बुधवार को 3 घंटे से अधिक जाम लगने से लोग परेशान हो गए। ट्रेन आने पर फाटक बन्द होने से धीरे धीरे वाहनों की कतार लगना शुरू हो गई। ऐसे में जाम से चारों ओर के मार्ग अवरुद्ध हो गए। जिसे सुचारू करने के लिए प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पड़ी। कस्बे में 91 करोड़ की नवीन सड़क से बड़े वाहनों की आवाजाही भी हो रही है। ट्रेन आने पर फाटक बन्द होने से यहां बार-बार जाम की समस्या बनी हुई है।

 


ओवरब्रिज बनाने की कवायद जारी : बलरिया की फाटक संख्या 14 पर वाहनों की आवाजाही को देखते हुए पिछले दिनों सांसद ने रेलमंत्री से मिलकर ओवरब्रिज बनाने को लेकर 37 करोड़ की राशि स्वीकृत कराई थी, लेकिन रेलवे प्रशासन की ओर से ओवरब्रिज की धीमी कार्यवाही के चलते परेशानी हो रही है।

 


वाहनों का अधिक दबाव : कस्बे में चौथ माता मंदिर होने से यहां यात्रियों की भीड़ व यातायात का दबाव अधिक रहता है। यहां हाड़ौती से अधिक श्रद्धालु आते हैं। ऐसे में बलरिया फाटक बंद होने से जाम लग जाता है।

Shubham Mittal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned