बीस दिन बाद भी नहीं पहुंच पाया टेल तक पानी, नहर का धोरा अवरुद्ध, लगभग 200 बीघा जमीन सूखी

नहरों की नहीं हुई सफाई, किसानों ने जताया रोष

बाटोदा. मोरेल बांध की पूर्वी नहर की सफाई नहीं होने के कारण 20 दिन गुजर जाने के बाद भी टेल तक पानी नहीं पहुंच पाया। माधोपुरिया से लेकर टेल तक नहर में कई जगह अवरोधक बने हुए हैं। साथ ही माधोपुरिया के समीप वाले माइनर में अवरोधक होने के कारण पानी आगे बहुत धीमी गति से बढ़ रहा है। नहरों की सफाई के लिए कई बार उच्चाधिकारियों को अवगत कराने के बावजूद भी इस ओर ध्यान नहीं दिए जाने से किसानों में रोष है।

किसानों की फसलें सूख रही है, जबकि कई किसान फसल बुवाई का इंतजार कर रहे हैं। कृषक अंबालाल, श्याम लाल सैनी, शंभूलाल, लक्ष्मी नारायण, हंसराज बरनाला, चिरंजी खारवाल सहित किसानों ने बताया कि नहर के अंतिम छोर तक सफाई नहीं होने से पानी पहुंचने में काफी समय लगेगा। तब तक खेतों में खड़ी फसलें सूख जाएगी व सिंचाई कार्य प्रभावित होगा।

पीपलवाड़ा. पीपलवाडा में गुडला नदी सड़क पर स्थित नहर की पुलिया से निकला धोरा पक्का निर्माण कार्य के चलते अवरुद्ध हो गया था।
धोरा में पानी की निकासी नहीं होने से सरसों व गेहूं की फसल सूखने के कगार पर है। इससे करीब 200 बीघा जमीन में सिंचाई नहीं हो पा रही है। रामवतार गुर्जर, सलीम खान ने बताया कि ढील बांध से नहर में पानी 16 नवंबर को छोड़ा गया था। नहर से पानी छोडऩे के बाद भी किसान हजारों रुपए खर्च कर कुओं से फसल की सिंचाई कर रहे हैं। किसानों ने विभागीय अधिकारियों को अवगत करवा दिया, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही।किसानों ने अवरुद्ध धोरे को ठीक करवाने की मांग की है।

टंकियों से जलापूर्ति कराने की मांग, लोगों को हो रही है परेशानी
सवाईमाधोपुर. राजस्थान किसान सभा की जिला शाखा के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर ग्राम पंचायत जस्टाना के टोण्ड गांव में टंकियों से जलापूर्ति शुरू कराने की मांग की है। जिलाध्यक्ष कानजी मीणा ने बताया कि टोण्ड गांव के छापर में टंकियों का निर्माण तीन साल पहले कराया गया था, लेकिन अब तक जलापूर्ति शुरू नहीं हो सकी है। इससे लोगों को परेशानी हो रही है।

  • नहर के अंतिम छोर तक दो तीन दिन में पानी पहुंच जाएगा। अभी सुंदरी, टिगरिया, सुखानंदपुरा क्षेत्र में दोनों ओर सिंचाई हो रही है। नहर की सफाई करवा दी गई है। ढलान वाले क्षेत्र की सफाई नहीं करवाई गई।
    एमएल मीना, सहायक अभियंता, सिंचाई विभाग
Vijay Kumar Joliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned