बाबू को चार्जशीट, चेयरमैन से मांगी रिपोर्ट

बाबू को चार्जशीट, चेयरमैन से मांगी रिपोर्ट

Rajeev Pachauri | Updated: 11 Jul 2019, 08:35:06 PM (IST) Sawai Madhopur, Sawai Madhopur, Rajasthan, India

गंगापुरसिटी . नगरपरिषद कार्यालय के पट्टा शाखा की 17 पत्रावलियां पुरानी मंडी स्थित एक निजी व्यक्ति के नक्शा सेंटर पर मिलने के बाद आयुक्त ने पट्टा शाखा के लिपिक को चार्जशीट थमाई है। वहीं चेयरमैन से भी वस्तुस्थिति की रिपोर्ट मांगी है। इसमें कारण भी पूछा गया है कि हस्ताक्षर होने के लिए आई फाइलें निजी व्यक्ति के कार्यालय तक कैसे पहुंचीं।

गंगापुरसिटी . नगरपरिषद कार्यालय के पट्टा शाखा की 17 पत्रावलियां पुरानी मंडी स्थित एक निजी व्यक्ति के नक्शा सेंटर पर मिलने के बाद आयुक्त ने पट्टा शाखा के लिपिक को चार्जशीट थमाई है। वहीं चेयरमैन से भी वस्तुस्थिति की रिपोर्ट मांगी है। इसमें कारण भी पूछा गया है कि हस्ताक्षर होने के लिए आई फाइलें निजी व्यक्ति के कार्यालय तक कैसे पहुंचीं।


सरकारी दफ्तर की फाइलें निजी व्यक्ति के कार्यालय तक पहुंचने का मामला सुर्खियों में आने के बाद डीएलवी ने हरकत में आते हुए आयुक्त से तुरंत रिपोर्ट तलब की। नगरपरिषद आयुक्त ऋषिदेव ओला ने पट्टा शाखा के लिपिक सुरेश महावर को चार्टशीट थमा दी है। वहीं डीएलवी के निर्देश पर सभापति संगीता बोहरा से भी वस्तुस्थिति की रिपोर्ट मांगी है कि फाइल पुरानी अनाज मंडी स्थित एडवोकेट राकेश कुमार अग्रवाल के नक्शा सेंटर पर कैसे पहुंचीं। कार्यालय का रिकॉर्ड निजी व्यक्ति के यहां तक पहुंचने के मामले को डीएलवी ने गंभीरता से लिया है।

उल्लेखनीय है कि नगरपरिषद कार्यालय के रिकॉर्ड के अनुसार नक्शा सेंटर से जब्त की गईं पत्रावलियां सभापति संगीता बोहरा के पास हस्ताक्षर होने के लिए गई थीं, जिसका उल्लेख कार्यालय रजिस्टर में बताया जा रहा है। उधर, सभापति ने भूलवश दूसरा पैड वकील के पास पहुंचने की बात कही है। फिलहाल डीएलवी प्रशासन पूरे मामले की गहनता से पड़ताल में जुट गया है।


धांधली पर थी प्रशासन की नजर


नगरपरिषद में पट्टे जारी करने को लेकर प्रशासन के पास शिकायतों का अंबार लगा था। इसको लेकर प्रशासनिक अधिकारी लगातार परिषद कार्यालय का निरीक्षण कर इस प बारीकी से नजर रख रहे थे। मंगलवार को एडीएम पंकज ओझा के नेतृत्व में एडवोकेट राकेश कुमार अग्रवाल के नक्शा सेंटर पर कार्रवाई कर यहां से पट्टे की 17 पत्रावलियां जब्त की गई थीं। इस संबंध में प्रशासन की ओर से जिला कलक्टर सहित डीएलवी के उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट भेजी गई है। इसमें प्रथम दृष्टया बड़ी गड़बड़ी होना सामने आ रहा है।


इनका कहना है
पत्रावलियां निजी व्यक्ति के यहां मिलने के मामले में पट्टा शाखा के लिपिक को चार्जशीट दी है। वहीं डीएलवी के निर्देशानुसार सभापति से भी वस्तुस्थिति की रिपोर्ट मांगी है कि पत्रावलियां वहां तक कैसे पहुंचीं। पूरे मामले की रिपोर्ट बनाकर उच्चाधिकारियों को भेज दी है।
- ऋषिदेव ओला, आयुक्त नगरपरिषद गंगापुरसिटी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned