गंदगी पर फूटा गुस्सा, तहसील गेट बंद कर किया प्रदर्शन

गंदगी पर फूटा गुस्सा, तहसील गेट बंद कर किया प्रदर्शन

Rajeev Pachauri | Publish: Sep, 07 2018 08:37:26 PM (IST) Gangapur City, Rajasthan, India

बामनवास . राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय परिसर में जमा गंदगी, कीचड़ एवं आवारा मवेशियों की समस्या से जूझती छात्राओं का गुस्सा शुक्रवार को फूट पड़ा। समस्या से परेशान एवं प्रशासनिक उपेक्षा से आक्रोशित स्कूली छात्राओं ने स्कूल की चारदिवारी से बाहर निकलकर प्रशासन के विरोध में प्रदर्शन किया। सभी छात्राएं स्कूल से तहसील कार्यालय पहुंचीं और तहसील कार्यालय के मुख्य गेट को बंद कर प्रदर्शन किया।

बामनवास . राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय परिसर में जमा गंदगी, कीचड़ एवं आवारा मवेशियों की समस्या से जूझती छात्राओं का गुस्सा शुक्रवार को फूट पड़ा। समस्या से परेशान एवं प्रशासनिक उपेक्षा से आक्रोशित स्कूली छात्राओं ने स्कूल की चारदिवारी से बाहर निकलकर प्रशासन के विरोध में प्रदर्शन किया। सभी छात्राएं स्कूल से तहसील कार्यालय पहुंचीं और तहसील कार्यालय के मुख्य गेट को बंद कर प्रदर्शन किया।


इसके बाद उपखण्ड अधिकारी के समक्ष पहुंचकर प्रशासनिक रवैये के प्रति रोष जताया। छात्राओं का आरोप है कि करीब दो माह से वे स्कूल परिसर में गंदगी की समस्या से जूझ रही हैं। मैदान पर काली एवं चिकनी मिट्टी डलवा देने से बारिश का पानी भर जाता है। कक्षा-कक्षों तक पहुंचना टेढी खीर साबित हो रहा है। वहीं रात के समय स्कूल में आवारा मवेशियों का जमावड़ा लगा रहता हैं। ये मवेशी रात के समय स्कूल के बरामदों में गंदगी करते हैं। इसकी उन्हें खुद सफाई करनी पड़ती है।

ऐसी स्थिति में उनकी पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है। कई बार जनप्रतिनिधि एवं अधिकारियों को अवगत कराने के बाद भी उनकी समस्या की अनदेखी की जा रही हैं। उपखण्ड अधिकारी दुर्गा प्रसाद मीना ने छात्राओं की पीड़ा सुनने के बाद भरोसा दिलाया कि इस संबंध में प्रशासनिक स्तर पर चर्चा कर समस्या का स्थाई समाधान निकाला जाएगा। उपखण्ड अधिकारी के भरोसे के बाद आक्रोशित छात्राओं का गुस्सा शांत हुआ तथा वे वापिस स्कूल लौट आई।

विद्यालय प्रशासन असमर्थ


पीडब्ल्यूडी की ओर से विद्यालय मैदान पर उनको बिना सूचना दिए काली एवं चिकनी मिट्टी डलवा दी गई। जिससे बरसात के चलते स्कूल मैदान तालाब बना हुआ है। गेट बनाने के लिए दीवार को तोड़ दिया गया। ऐसे में आवारा पशुओं का स्कूल परिसर में जमावड़ा लगा रहता है।


ग्राम पंचायत को दिए निर्देश


उपखण्ड अधिकारी मीना ने ग्राम पंचायत पट्टीकलां के ग्राम विकास अधिकारी को चारदिवारी की व्यवस्था करने के निर्देश दिए ताकि आवारा मवेशी प्रवेश नहीं कर सकें। ग्राम पंचायत द्वारा इसके लिए तारबंदी कर व्यवस्था का भरोसा दिया है। वहीं उपखण्ड अधिकारी ने विद्यालय की प्रधानाचार्य को भी बुलाकर विद्यालय में सफाई व्यवस्था कराने के निर्देश दिए। उन्होंने संस्था प्रधान को पाबंद किया कि सफाई के लिए विद्यालय स्तर पर व्यवस्था की जाए। छात्राओं को सफाई नहीं करनी पड़े। एसडीएम ने बताया कि विद्यालय के मुख्य मार्ग पर भूड़ा मिट्टी डलवाने के भी ग्राम पंचायत को निर्देश दिए गए हैं।


प्रधानाचार्य शबाना बानो का कहना है कि पीडब्ल्यूडी ने विद्यालय मैदान पर बिना सूचना दिए काली एवं चिकनी मिट्टी डलवा दी है। इससे बरसात के चलते स्कूल मैदान तालाब बना हुआ है। गेट बनाने के लिए दीवार को तोड़ दिया है। ऐसे में आवारा पशुओं का स्कूल परिसर में जमावड़ा लगा रहता है। इससे गंदगी रहती है। विद्यालय प्रशासन इस समस्या से निपटने में असमर्थ हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned