गर्मी में गन्ने का ज्यूस न कर दे बीमार,लोगों के स्वास्थ्य के साथ हो रहा खिलवाड़

गर्मी में गन्ने का ज्यूस न कर दे बीमार,लोगों के स्वास्थ्य के साथ हो रहा खिलवाड़

By: Abhishek ojha

Published: 24 May 2018, 11:41 AM IST

सवाईमाधोपुर. भीषण गर्मी के सीजन में गन्ने का ज्यूस आदि शीतल पेय पदार्थों की बिक्री में भी इजाफा हो गया है। हर कोई दोपहर में तेज धूप में गर्मी से निजात पाने और गला तर करने के लिए गली चौराहों व बाजार में गन्ने के ज्यूस का सेवन करता नजर आ रहा है, लेकिन जिला मुख्यालय पर अधिकतर गन्ने का ज्यूस बेचने वाले सफाई का ध्यान नहीं रख रहे हैं।


ढककर नहीं रखते
ठेलों पर बिकने वाले गन्ने के ज्यूस को अधिकतर विक्रेता ढक्कर नहीं रखते हैं। ऐसे में ज्यूस के चारों ओर मक्खी आदि भिनभिनाती रहती हैं। कई बार ज्यूस में मक्खी आदि गिर जाती है। ऐसे में लोगों की तबीयत बिगडऩे की आशंका बनी रहती है।


कार्रवाई के नाम पर खानापूर्ति
कार्रवाई के नाम पर खानापूर्ति ड्डनियमानुसार ज्यूस आदि खाद्य सामग्री बेचने के लिए खाद्य विभाग से लाइसेंस लेने की आवश्यकता होती है, लेकिन जिला मुख्यालय पर बिना लाइसेंस के ही धड़ल्ले से खाद्य सामग्री बेची जा रही है। खाद्य विभाग इससे अंजान बना हुआ है। विभाग की ओर से कार्रवाई के नाम पर महज खानापूर्ति की जा रही है।

इनका कहना है....
विभाग की ओर से समय- समय पर ज्यूस आदि पेय पदार्थों से सैंपल लेकर जांच की जाती है। गत दिनों गंगापुर सिटी में सैंपल लिए गए थे।
वेदप्रकाश पूर्बिया, खाद्य सुरक्षा अधिकारी, सवाईमाधोपुर।


सड़क किनारे डाल रहे कचरा
ज्यूस विक्रेताओं के पास गन्ने आदि के कचरे के निस्तारण की भी कोई व्यवस्था नहीं होती है। ऐसे में ज्यूस विक्रेता कचरे को सड़क किनारे ही डालकर चले जाते हैं। कचरे के ढेर में जानवर मुंह मारते रहते हैं। ऐसे में गंदगी तो होती ही है हादसे की आशंका भी बन जाती है।

ठण्डा शर्बत पिलाया
सवाईमाधोपुर. सिंधी नवयुवक मण्डल के तत्वावधान में बुधवार को रेलवे स्टेशन पर राहगीरों व यात्रियों को ठण्डा शर्बत पिलाया गया। प्याऊ संचालक दयाराम असनानी ने बताया कि इस दौरान राजू हरवानी व सुरेश सुखवानी आदि मौजूद थे।

Abhishek ojha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned