संकट में किसान, चार दिन से खुले में पड़ा किसानो का गेहूं

व्यापारियों को बेचकर जा रहे हैं किसान अपना माल

By: Vijay Kumar Joliya

Published: 24 May 2020, 06:45 PM IST

भाडौ़ती। कस्बे में स्थित क्रय विक्रय सहकारी समिति के समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीद के नियमों में छूट देने के बाद सरकारी कांटों पर बड़ी तादाद में गेहूं आने लगा है। हालत यह है कि क्रय विक्रय सहकारी समिति का गोदाम भी फुल हो चुके हैं। ऐसे में गेहूं खरीद केंद्रों से माल नहीं उठ रहा।

जिसका असर एक दूसरे गांव से आने वाले किसानों पर सरकारी कांटों पर गेहूं बेचने आए किसानों पर पड़ रहा के गेहूं खरीद केंद्र से गेहूं समय पर नहीं उठ पाने के कारण किसानों को औने पौने दामों में बाजार में व्यापारियों को बेच कर जाना पड़ रहा है अपना गेहूं सरसों चना। कई किसान दो रोज से अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे।

हालांकि दोपहर तक माल खरीदा जाने लगा। क्रय विक्रय सहकारी समिति व्यवस्थापक धर्म चंद मीणा का कहना है कि कैंपस मे चना सरसों एवं गेहूं से फुल है। करीब सात ट्रक माल खुले में पड़ा है। अभी त्यौहार की वजह से गोदाम पर ट्रक नहीं आने की वजह से किसानों से खरीदा गया माल गोदाम में ही पड़ा हुआ है जैसे ही ट्रक आएंगे वैसे ही सारा माल को उठाकर फिर से तुलाई कार्य जारी हो जाएगा। फिलहाल पिछले 3 दिनों से तुलाई कार्य बंद पड़ा हुआ है।

Vijay Kumar Joliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned