VIDEO: भैंस चोरी के विवाद में फायरिंग, एक की मौत, दोनों पक्षों के पांच जने घायल

बहरावण्डा कलां थाने के श्रीनाथपुरा गांव का मामला

By: Vijay Kumar Joliya

Published: 08 Dec 2019, 09:04 PM IST

Sawai Madhopur, Sawai Madhopur, Rajasthan, India

खण्डार/बालेर. जिले के खण्डार उपखण्ड के बहरावण्डा कलां थाना इलाके के श्रीनाथपुरा डांग का सांकड़ा गांव में रविवार सुबह भैंस चोरी के विवाद को लेकर हुई फायरिंग में एक जने की मौत हो गई। जबकि दोनों पक्षों के पांच जने घायल हो गए। ग्रामीणों ने मौके से दो आरोपियों को पकड़कर धुनाई कर दी। सूचना पर मौके पर पहुंचे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धर्मेन्द्र यादव, पुलिस उपाधीक्षक ग्रामीण राकेश राजौरा, सवाईमाधोपुर एसडीएम रघुनाथ, खण्डार थानाधिकारी रामसिंह यादव, बहरावण्डा कलां थानाधिकारी विनोद जाटव, सपोटरा थानाधिकारी रामनाथ सिंह ने पकड़े गए दोनों आरोपियों को छुुड़ाकर सपोटरा अस्पताल में भर्ती कराया।

पुलिस के अनुसार रावतपुरा निवासी नादान के परिवार की कुछ दिनों पहले भैंस चोरी हो गई थी। वह भैंस की तलाश कर रहा था। श्रीनाथपुरा में भैंस होने की जानकारी मिली। वह परिजनों के साथ गांव पहुंचा तो भैंस को पहचान गया, जबकि गांव का मूलचंद गुर्जर कई माह पहले बिचपुरी गुजरान से उसी भैंस को खरीद कर लाया था। आरोपियों का कहना था कि वह भैंस उसकी है। इस पर ग्रामीणों ने एकजुट होकर इसका विरोध किया और कहा कि भैंस खरीदकर कर लाए है। इस पर आरोपी नादान व शिवलहरी बंदूक की नोक पर भैंस खोलकर ले जाने लगे। इस दौरान नादान के साथ आए लोगों में से किसी ने फायरिंग कर दी। इसमें गोली धर्मसिंह (22) पुत्र रामधन गुर्जर निवासी श्रीनाथपुरा डांग का सांकड़ा व रामचरण (35) पुत्र मोती गुर्जर हाल श्रीनाथपुरा डांग का सांकड़ा निवासी बरनवादा खण्डार के लगी। इसमें धर्मसिंह की मौत हो गई, जबकि रामचरण गंभीर घायल हो गया।

इसके अलावा रामस्वरूप (60) पुत्र छोट्या गुर्जर, हरिकेश पुत्र छोट्या गुर्जर निवासी श्रीनाथपुरा डांग का सांकड़ा के भी छर्रे लगने से घायल हो गए। घायलों को खण्डार सीएचसी भर्ती कराया, जहां से रामचरण को जयपुर रैफर कर दिया। इसके बाद दोनों पक्षों में लाठी भाटा जंग शुरू हो गई। इसमें दूसरे पक्ष के नादान पुत्र कल्याण सिंह निवासी रावतपुरा जिला करौली, शिवलहरी (62) पुत्र वासी गुर्जर निवासी मरमदा करौली घायल हो गए। ग्रामीणों ने नादान व शिवलहरी को पकड़ लिया और उनकी जमकर पिटाई कर दी।

इसके बाद पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों को ग्रामीणों से छुड़ाकर सपोटरा अस्पताल में भर्ती कराया। इस दौरान पुलिस ने मौके से एक बंदूक जब्त की है। मृतक धर्मसिंह के पिता रामधन गुर्जर ने शिवलहरी व नादान, घनश्याम पटेल,बनेसिंह, रामजीत,अजमेरसिंह, उत्तरसिंह, मुकेश गुर्जर निवासी मरमदा करौली सहित अन्य 8-10 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

चारपाई से लाए घायलों को, 5 घंटे बाद मिला उपचार
श्रीनाथपुरा गांव में रविवार सुबह फायरिंग में घायल हुए लोगों को पांच घंटे बाद उपचार मिला। ग्रामीणों ने बताया कि उनका गांव ग्राम पंचायत बालेर में है। वे डांग में रहते है। वहां तक जाने का सुगम रास्ता नहीं है। बालेर से दो किमी ऊंची पहाड़ी को चढ़कर पैदल श्रीनाथपुरा पहुंचते है। ऐसे में पुलिस व ग्रामीण दुर्गम रास्तों से घायलों को चारपाई से लेकर वाहनों तक लाई। इसके बाद उन्हें सुबह करीब नौ बजे खण्डार व सपोटरा सीएचसी लाए।

इनका कहना है...
श्रीनाथपुरा गांव में फायरिंग में एक जने की मौत हो गई। दोनों पक्षों के पांच लोग घायल हो गए। मृतक के परिजनों ने करौली जिले के 10-15 लोगों के खिलाफ फायरिंग व मारपीट की रिपोर्ट दर्ज कराई है। प्रथम दृष्टया जांच में भैंस चोरी को लेकर फायरिंग का मामला सामने आया है। अनुसंधान जारी है।
धर्मेन्द्र यादव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सवाईमाधोपुर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned