विद्युत निगम का वसूली पर फोकस

गंगापुरसिटी. बकाया राजस्व वसूली को लेकर विद्युत निगम गंभीर नजर आ रहा है। निगम की ओर से हर माह शत प्रतिशत राजस्व वसूली को लेकर कार्मिकों को दायित्व प्रदान किया गया है। निगम के अधीक्षण अभियंता आर. के. मीना ने गत दिनों यहां के दौरे में बैठक के दौरान अधिकारियों को इस बारे में निर्देश प्रदान किए थे। इसके बाद से निगम की ओर से 5 हजार से अधिक बकाया वाले उपभोक्ताओं से वसूली के लिए कवायद की जा रही है। इसके तहत कनिष्ठ अभियंताओं और फीडर इंर्चाज को दायित्व प्रदान किया गया है। इसके तहत राशि जमा नहीं कराने पर कनेक्शन काटने की कार्रवाई भी की जा सकती है। इसके पीछे निगम का मकसद हर माह का राजस्व अर्जित करना है।

By: Rajeev

Published: 01 Jul 2019, 09:31 PM IST

गंगापुरसिटी. बकाया राजस्व वसूली को लेकर विद्युत निगम गंभीर नजर आ रहा है। निगम की ओर से हर माह शत प्रतिशत राजस्व वसूली को लेकर कार्मिकों को दायित्व प्रदान किया गया है। निगम के अधीक्षण अभियंता आर. के. मीना ने गत दिनों यहां के दौरे में बैठक के दौरान अधिकारियों को इस बारे में निर्देश प्रदान किए थे। इसके बाद से निगम की ओर से 5 हजार से अधिक बकाया वाले उपभोक्ताओं से वसूली के लिए कवायद की जा रही है। इसके तहत कनिष्ठ अभियंताओं और फीडर इंर्चाज को दायित्व प्रदान किया गया है। इसके तहत राशि जमा नहीं कराने पर कनेक्शन काटने की कार्रवाई भी की जा सकती है। इसके पीछे निगम का मकसद हर माह का राजस्व अर्जित करना है।


11 सौ पर पौने दो करोड़ बकाया


विद्युत निगम सूत्रों के अनुसार सहायक अभियंता शहर (अ प्रथम) के अधीन 1147 उपभोक्ताओं पर 5 हजार से अधिक की राशि बकाया है। इन गैर सरकारी उपभोक्ताओं पर निगम का 171 लाख रुपए बकाया है। अधीक्षण अभियंता के दौरे के बाद निगम के स्थानीय अधिकारियों ने वसूली की कार्रवाई तेज कर दी है। इसके तहत निगम की ओर से 27 जून व 28 जून को दो दिन में 109 उपभोक्ताओं से बकाया राशि वसूल की गई है। वहीं तीन उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटने की कार्रवाई भी की गई है।


बिजली चोरी रोकने की कवायद


बकाया राशि वसूलने के साथ निगम की ओर से बिजली चोरी की रोकथाम पर भी फोकस है। निगम की ओर से पिछले तीन दिन में सहायक अभियंता शहर (अ प्रथम) के अधीन 72 स्थानों पर बिजली चोरी पकड़ी गई है। सहायक अभियंता महेश सैनी के निर्देशन में कनिष्ट अभियंता आशीष स्वर्णकार, भूपेश शर्मा व शुभम मित्तल व टीम ने बिजली चोरी करने वालो के खिलाफ 72 हजार रुपए का जुर्माना किया है। सात दिन में जुर्माना राशि जमा नहीं कराने पर निगम की ओर से प्राथमिकी दर्ज कराने की कार्रवाई की जाएगी।


25 प्रतिशत छीजत
सहायक अभियंता शहर के अधीन टीएण्डडी लॉस निर्धारित मानक से अधिक है। वर्तमान में टीएण्डडी लॉस 25 प्रतिशत चल रहा है, जबकि निर्धारित मानक 15 प्रतिशत है। टीएण्डडी लॉस को 15 प्रतिशत के दायरे में लाने के लिए निगम की ओर से बिजली चोरी की रोकथाम को लेकर भी प्रयास किए जा रहे हैं।


वसूली का लक्ष्य मिला है


प्रति माह 100 प्रतिशत राजस्व वसूली का लक्ष्य मिला हुआ है। इसके अनुसार ही वसूली की कार्रवाई की जा रही है।
-महेश सैनी, सहायक अभियंता (अ प्रथम), विद्युत निगम गंगापुरसिटी

Rajeev Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned