समर्थन मूल्य पर उड़द का भुगतान नहीं होने से रोष

समर्थन मूल्य पर उड़द का भुगतान नहीं होने से रोष

 

खण्डार. उपखण्ड क्षेत्र के किसानों ने समर्थन मूल्य पर उड़द खरीद के भुगतान नहीं होने से नाराज होकर मुख्यमंत्री के नाम उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन सौंपा। ग्रामीण छोट्या जाट, मेमराज जाट, विजेन्द्र चौधरी, पवन जाट आदि ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा राजफेड कम्पनी के जरिए नियोजक एव क्रय विक्रय सहकारी समिति के तत्वावधान में उड़द की खरीद राजकीय औद्यौगिक प्रशिक्षण केन्द्र के बाहर की गई थी। चार माह बाद भी इसका भुगतान आज तक नहीं हुआ है। इससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।


जल्द से जल्द हो भुगतान
किसानों ने बताया कि उड़द खरीद का भुगतान जल्द से जल्द हो। यदि जल्द किसानों का भुगतान नहीं हो सका तो लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करेंगे। वहीं प्रत्याशियों को भी गांव में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। किसानों ने सात दिवस में उड़द तुलाई का भुगतान करने की मांग की है। इस मौके पर कैलाश, हेमन्त, महेश, भीमराज, रामफूल, परसराम, सुग्रीव जाट, मुरारी, हरिओम, बनवारी, ज्ञानसिंह, जुगराज, रामप्यारा, गोपाल आदि मौजूद थे।


आय करोड़ों की, सुविधाएं नाममात्र
चौथ का बरवाड़ा. कृषि उपज मंडी समिति में जहां कृषि मंडी की ओर से किसानों द्वारा लगाए गए माल पर कृषि मंडी का टैक्स वसूला जाता है। वहीं किसानों को सुविधा के नाम पर कुछ नहीं देने से किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। यहां किसानों को मूलभूत सुविधाएं भी उपलब्ध नहीं है। किसानों के लिए मंडी में बैठने के लिए भी समुचित जगह नहीं है। इसके साथ ही मंडी परिसर में सफाई भी न के बराबर है।


एक ही प्लेटफार्म, वह भी क्षतिग्रस्त
कृषि मंडी में किसानों की जिंसों तुलाई के लिए एक ही प्लेटफार्म है। वह भी क्षतिग्रस्त होने लगा है। ऐसे में किसानों को कांटा शुरू होने के समय खुले आसमान के नीचे जिंस तुलवाने पर मजबूर होना पड़ता है। बारिश में जिंस खराब होने की चिंता सताती रहती है।

मंडी प्रशासन द्वारा किसानों के सुविधाओं का ध्यान रखा जाता है। मंडी में अन्य प्लेटफार्म बनाने के लिए उच्चाधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। मंडी में सफाई भी करवाई जा रही है।
शिवदास मीणा, कृषि मंडी प्रभारी, चौथ का बरवाड़ा

Vijay Kumar Joliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned