गंगापुरसिटी शहरी परियोजना खत्म

गंगापुरसिटी . राज्य सरकार ने हाल ही में महिला एवं बाल विकास विभाग (समेकित बाल सेवाएं) की दो परियोजनाओं को मिलाकर एक कर दिया है। प्रदेशभर की 21 परियोजनाओं को समाप्त कर 21 ही नई परियोजनाएं नवसृजित की गई हैं। अब गंगापुरसिटी में शहरी और ग्रामीण की एक ही परियोजना संचालित होगी। इसके आदेश 1 सितम्बर को जारी हो गए। आदेश के तहत शहरी परियोजना ग्रामीण में मर्ज कर दी गई है। ऐसे में शहरी परियोजना का स्टाफ बिना काम बैठा है, जो पोस्टिंग की बाट जोह रहे हैं।

गंगापुरसिटी . राज्य सरकार ने हाल ही में महिला एवं बाल विकास विभाग (समेकित बाल सेवाएं) की दो परियोजनाओं को मिलाकर एक कर दिया है। प्रदेशभर की 21 परियोजनाओं को समाप्त कर 21 ही नई परियोजनाएं नवसृजित की गई हैं। अब गंगापुरसिटी में शहरी और ग्रामीण की एक ही परियोजना संचालित होगी। इसके आदेश 1 सितम्बर को जारी हो गए। आदेश के तहत शहरी परियोजना ग्रामीण में मर्ज कर दी गई है। ऐसे में शहरी परियोजना का स्टाफ बिना काम बैठा है, जो पोस्टिंग की बाट जोह रहे हैं।


अब तक दो परियोजनाओं का काम अलग-अलग हो रहा था। इसे दो सीडीपीओ संचालित कर रहे थे। साथ ही कार्यकर्ता और सहायिका भी अलग-अलग परियोजनाओं के हिसाब से काम कर रही थीं, लेकिन अब इन सबको मिलाकर एक ही कर दिया गया है। शहरी परियोजना में से एक लेखाकार को तो मूल विभाग में भेज दिया गया है, लेकिन सीडीपीओ सहित अन्य स्टाफ अब अपनी पोस्टिंग के इंतजार में है। जिले में सवाई माधोपुर से शहरी परियोजना खत्म कर चौथ का बरवाड़ा को नई परियोजना के रूप में विकसित किया गया है।


यहां की परियोजनाएं खत्म


राज्य सरकार ने बारां में बारां शहर, बाड़मेर में सिणधरी द्वितीय नोखडा, बीकानेर में नोखा द्वितीय देशनोक, चुरू में सरदारशहर सिटी, चूरू में सुजानगढ़ सिटी, दौसा में दौसा शहर, धौलपुर में धौलपुर शहर, डूंगरपुर में बिच्छीवाड़ा द्वितीय गामरी आहड़ा, जयपुर में जयपुर चतुर्थ, झालावाड़ में झालावाड़ शहर, झुंझुनूं में झुंझुनूं शहर, करौली में हिण्डौनसिटी, नागौर में डीडवाना शहर, नागौर में मकराना शहर, पाली में पाली शहर, राजसमंद में राजसमंद शहर, सवाई माधोपुर में गंगापुरसिटी शहर, सवाई माधोपुर में सवाई माधोपुर शहर, सीकर में फतेहपुर शहर, सीकर में सीकर सिटी नई एवं सिरोही में आबूरोड शहर की परियोजना को समाप्त किया गया है।


यह हैं नई परियोजनाएं


अजमेर में पुष्कर, अजमेर में सरवाड, बांसवाड़ा में अरथूना, बाड़मेर में धनऊ, बीकानेर में पांचू, चूरू में बीदासर, चूरू राजगढ़ ग्रामीण, दौसा में दौसा द्वितीय लवाण, धौलपुर में धौलपुर द्वितीय सैंपऊ, डूंगरपुर में जोथरी, डूंगरपुर में दोगडा, जयपुर में पावटा, जयपुर में जालसू, झालावाड़ा में भवानी मंडी, झालावाड़ में अकलेरा, जोधपुर में टिवीर, करौली में मंडरायल, नागौर में खींवसर, नागौर में नांदा, सवाई माधोपुर में चौथ का बरवाड़ा एवं उदयपुर में फलासिया को नई परियोजना के रूप में विकसित किया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned