VIDEO प्लेटफार्म चार पर वाहन भगवान भरोसे

10 दिन बाद नहीं हुआ पार्कि ग टेण्डर
31 मार्च को समप्त हो गया था टेण्डर

By: rakesh verma

Published: 10 Apr 2019, 11:58 AM IST

सवाईमाधोपुर. रेलवे प्रशासन भले ही यात्रियों की सुरक्षा व सुविधा के कितने ही दावे करें लेकिन हकीकत में आज भी यात्री सुविधाओं के लिए तरस रहे हैं। यदि आप रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर जा रहे हैं तो जरा संभरकर अपने वाहन को पार्क करना। यहां वाहनों की सुरक्षा की जिम्मेदारी रेलवे की नहीं है। कारण है रेलवे पार्किंग टेण्डर का समाप्त होना। आलम यह है कि प्लेटफार्म चार पर पार्किंग का टेण्डर 31 मार्च को ही पूरा हो गया है। अब आठ दिन बीत जाने के बाद भी अब तक रेलवे की ओर से टेण्डर की नई प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है ऐसे में प्लेटफार्म चार पर पार्किंग की सुविधा नहीं है।
टेण्डर खत्म होने के बाद भी वसूल रहा राशि
रेलवे की ओर से पूर्व में प्लेटफार्म चार पर पार्किंग का ठेका बूंदी की एक निजी फर्म को दिया था। जनवरी में हुए इस करार की अवधि महज 90 दिनों की थी। जो 31 मार्च को समाप्त हो गई। नितिन शर्मा, आशीष सोनी आदि लोगों ने बताया कि इसके बाद ठेका संचालक पार्किं ग की एवज में शुल्क वसूल रहा है।
एक ही कं पनी के दोनों ठेके
रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म एक व चार पर दो जगह पार्किंग के टेण्डर किए गए थे। दोनों ही टेण्डर बूंदी की एक निजी फर्म को दिए गए थे। इनमें से प्लेटफार्म एक पर संचालित पार्किंग का टेण्डर चार साल के लिए किया गया था और प्लेटफार्म चार का टेण्डर महज तीन माह के लिए था।
यह है रेलवे का तर्क
रेलवे अधिकारियों ने बताया कि प्लेटफार्म चार पर दिन भर में कुछेक टे्रने ही आती हैं। ऐसे में प्लेटफार्म चार पर यात्रियों का दवाब भी कम ही होता है। ऐसे में अधिकतर पार्किंग संचालकों को अधिक मुनाफा नहीं होता है। ऐसे में ठेकेदार भी रेलवे को ठेके की राशि जमा कराने में रुचि नहीं दिखाते हैं।
इनका कहना है....
प्लेटफार्म चार पर पार्किंग का टेण्डर 31 मार्च को समाप्त हो गया है। टेण्डर समाप्ति के बाद भी शुल्क वसूलने की शिकायत नहीं मिली है।
- शिवलाल मीणा, स्टेशन अधीक्षक, सवाईमाधोपुर।

rakesh verma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned