गुर्जर आंदोलन का मामला: दिल्ली आरपीएफ की कंपनियों ने संभाली कमान

गुर्जर आंदोलन का मामला: दिल्ली आरपीएफ की कंपनियों ने संभाली कमान

By: Abhishek ojha

Published: 16 May 2018, 10:31 AM IST

सवाईमाधोपुर. गुर्जर आंदोलन के मद्देनजर मंगलवार को रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा के माकूल प्रबंध किए गए। सवाईमाधोपुर से लेकर भरतपुर तक स्टेशनों पर आरपीएफ के जवानों को तैनात किया गया। सुरक्षा बंदोबस्त के लिए दिल्ली से भी आरपीएफ की विशेष कंपनियां बुलाई गई हैं। हालांकि शाम को आंदोलन के 23 मई तक स्थगित होने के बाद रेलवे प्रशासन व आरपीएफ ने राहत की सांस ली। हालांकि गुर्जर आंदोलन का असर मंगलवार को टे्रनों पर नजर नहीं आया। हालांकि आंदोलन के चलते कुछ टे्रनें आंशिक देरी से सवाईमाधोपुर पहुंची।


गुर्जर आंदोलन को लेकर अलर्ट रहा पुलिस प्रशासन
गुर्जर आंदोलन के प्रस्तावित कार्यक्रम को लेकर मंगलवार को जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन अलर्ट रहा। इसके लिए जिले में आरएसी तीन कंपनी बुलाई गई। इसमें से एक को गंगापुरसिटी व दो को सवाईमाधोपुर लगाया गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक योगेन्द्र फौजदार ने बताया कि प्रस्तावित गुर्जर आंदोलन को लेकर मंगलवार को जिलेभर में सामान्य स्थिति रही। फिलहाल, आंदोलन को 23 मई तक टाल दिया गया है। आगामी सभा 23 मई को होगी। इसके बाद ही आंदोलन के बारे में कहा जा सकता है। हालांकि इसके लिए पुलिस प्रशासन ने जिलेभर में महत्वपूर्ण स्थानों पर पाइंट बना रखे थे, जहां पुलिस जाप्ता गश्त करता रहा। जिला मुख्यालय पर दो अलग-अलग जगहों पर आरएसी कंपनी को लगाया गया। पुलिस प्रशासन की व्यवस्थाएं चाक-चौबंद रही।


महापंचायत में पहुंचे
15 मई को प्रस्तावित गुर्जर आरक्षण को लेकर शहर में दिनभर चर्चाओं का बाजार गर्म रहा। महापंचायत में भाग लेने के लिए बुधवार को बड़ी संख्या में गुर्जर समाज के लोग अड्डा गांव पहुंचें। देव सेना के जिलाध्यक्ष दीपक सिंह गुर्जर ने बताया कि इनमें भोलाराम, रूपसिंह,वीपी सिंह, सत्यप्रकाश आदि शामिल थे।
दिल्ली से बुलाई तीन कंपनियां
आरपीएफ से मिली जानकारी के अनुसार सुरक्षा व्यवस्था के लिए अतिरिक्त जाप्ता तैनात किया गया। इसके लिए दिल्ली से आरपीएफ की तीन विशेष कंपनियों को बुलाया है। इन कंपनियों में आरपीएफ के करीब 250 जवान शामिल हैं। इन्हें बयाना से भरतपुर के बीच तैनात किया गया है। 23 मई तक ये कं पनियां स्टेशनों पर तैनात रहेंगी।


84 जवान लगाए
आंदोलन को देखते हुए सवाईमाधोपुर से लाखेरी तक के सभी स्टेशनों पर आरपीएफ के 84 जवानों को तैनात किया गया। इनमें मलारना में 20, गंगापुर में 25, सवाईमाधोपुर में 12, लाखेरी में 8, नारायणपुर टटवाड़ा में 12 जवान तैनात किए गए।
&आंदोलन को देखते हुए सुरक्षा के माकूल प्रबंध किए गए हैं। सवाईमाधोपुर सेक्शन में 84 तैनात किए गए थे। इसके अतिरिक्त तीन कंपनियां भी बुलाई हैं। ये 23 मई तक स्टेशनों पर तैनात रहेंगी।
बच्चन देव, थानाधिकारी, आरपीएफ, सवाईमाधोपुर।


रेलवे ट्रेकों की बढ़ाई सुरक्षा, आरपीएफ के जवान तैनात
चौथ का बरवाड़ा. गुर्जर आरक्षण आंदोलन के प्रस्तावित कार्यक्रम को लेकर रेलवे प्रशासन अलर्ट हो गया है। ऐसे में रेलवे प्रशासन ने रेलवे स्टेशनों की सुरक्षा बढ़ा दी है। जयपुर सवाईमाधोपुर रेलवे मार्ग के बीच स्थित चौथ का बरवाड़ा रेलवे स्टेशन पर भी जीआरपी के जवानों के साथ आरपीएफ के जवानों की तैनाती की गई है। तैनात जवान रेलवे ट्रेकों का निरीक्षण कर रहे हैं।

मंगलवार को आरपीएफ इंस्पेक्टर नीलू गोठवाल ने चौथ का बरवाड़ा रेलवे स्टेशन पर पहुंचकर सुरक्षा व्यवस्थाओं का मुआयना किया। वहीं तैनात जवानों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए। गोठवाल ने बताया कि रेलवे ट्रेकों की सुरक्षा को लेकर जवानों की तैनाती की गई है। तथा रेलवे स्टेशन सहित ट्रेकों की मॉनिटरिंग की जा
रही है। वहीं सुरक्षा को लेकर आरपीएफ की एक और कंपनी रिजर्व में रखी है।

Abhishek ojha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned