चेक अनादरण के मामले में एक वर्ष का कारावास एवं 5 लाख 25 हजार का जुर्माना ,न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सुनाई सजा

चेक अनादरण के मामले में एक वर्ष का कारावास एवं 5 लाख 25 हजार का जुर्माना ,न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सुनाई सजा

abhishek ojha | Publish: Feb, 15 2018 06:40:26 PM (IST) Sawai Madhopur, Rajasthan, India

चेक अनादरण के मामले में एक वर्ष का कारावास एवं 5 लाख 25 हजार का जुर्माना ,न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सुनाई सजा

सवाईमाधोपुर. चेक अनादरण के मामले में बुधवार को न्यायिक मजिस्टे्रट मधु शर्मा ने आरोपित शंभू दयाल हरिजन निवासी आईएचएस कॉलोनी को दोष सिद्ध किए जाने पर एक वर्ष के साधारण कारावास व प्रतिकर के रूप में 5 लाख 25 हजार रुपए अधिरोपित करने सजा सुनाई। एडवोकेट महेन्द्र वर्मा ने बताया कि आरोपित के खिलाफ केबल नेटवर्क संचालक रमेश जागा निवासी आईएचएस कॉलोनी ने 7 अक्टूबर 2016 को न्यायालय में दिया था।

इसमें बताया था कि उससे आरोपित ने अपनी घरेलू आवश्यकता बताते हुए 29 जून 2016 को पांच लाख रुपए दो माह के लिए थे। इसके बदले में आरोपित ने उसे 5 लाख 25 हजार का चेक 29 अगस्त 2016 को अपने बैंकर्स यूनियन बैंक ऑफ इण्डिया का सौंप दिया। आरोपित द्वारा दिए गए चेक को पीडि़त ने बैंक से भुगतान प्राप्त करने के लिए इन्दिरा कॉलोनी स्थित एचडीएफसी बैंक में लगाया, बिना भुगतान 30 अगस्त को वापस लौटा दिया गया था।

पार्षद से मारपीट, शांतिभंग में गिरफ्तार
सवाईमाधोपुर. शहर में पार्षद से मारपीट करने के मामले में कोतवाली पुलिस ने बुधवार को चन्द्रप्रकाश मित्तल को शांतिभंग में गिरफ्तार किया है। कोतवाली पुलिस ने बताया कि पार्षद गोवर्धन सोनी अनुसार मित्तल ने पुरानी रंजिश को लेकर सुबह उसके साथ मारपीट की।

इस पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है। वहीं दूसरी ओर शहर निवासी खेमचंद गोयल व वार्ड 22 के लोगों ने कोतवाली में पार्षद द्वारा जबरन सड़क तोडऩे के विरोध करने पर मारपीट करने की शिकायत की है। उन्होंने बताया कि पीडि़त हरसहाय जी का कटला से पुरानी अनाज मण्डी रोड पूरा सही बना हुआ था।

उसे पार्षद द्वारा तुड़वा दिया है। इससे करीब सभी नलों के कनेक्शन टूट गए है। लोग जब इसका उलाहना देने पार्षद के पास गए तो पार्षद के बेटे व भाई ने उनसे अभद्रता की और मारपीट पर उतारू हो गए। उन्होंने मामले की जांच कर कार्रवाई की मांग की है।

नहीं मिल रही रसद सामग्री
खण्डार. तहसील क्षेत्र की ग्राम पंचायत दौलतपुरा में राशन डीलर के द्वारा रसद सामग्री नहीं देने का मामला सामने आया है। ग्राम पंचायत सरपंच संतोष कंवर ने बताया कि इस मामले को लेकर वार्ड सभा में चर्चा की गई। इसमें भी राशन डीलर द्वारा रसद सामग्री वितरण में की जा रही हेराफेरी का मामला गहराया था। ग्रामीणों ने बताया कि स्थानीय राशन डीलर विगत 12 माह से नियमित तरीके से रसद सामग्री नहीं मिल रही है। ग्रामीणों के द्वारा पूर्व में भी जिला रसद अधिकारी एवं संसदीय सचिव को लिखित में अवगत करवाया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned