साढ़े चार माह में डीएपी पर 200 व पोटाश पर डेढ़ सौ रुपए बढ़े

साढ़े चार माह में डीएपी पर 200 व पोटाश पर डेढ़ सौ रुपए बढ़े

Subhash Mishra | Publish: Oct, 14 2018 11:53:49 AM (IST) | Updated: Oct, 14 2018 11:53:50 AM (IST) Sawai Madhopur, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news


सवाईमाधोपुर. जिलेभर में किसानों की समस्याएं थमने का नाम नहीं ले रही है। पहले अतिवृष्टि से खरीफ की फसल खराब हो गई, फिर गिरदावरी नहीं होने से किसानों को मुआवजा नहीं मिला पाया। अब सरकार ने रबी सीजन में डीएपी-पोटाश की कीमतों में 15 से 20 प्रतिशत तक बढ़ोतरी कर किसानों की परेशानी और बढ़ा दी है।
करीब पांच माह पहले डीएपी 50 किलो कट््टे की कीमत 1250 रुपए थी, जो अब बढ़कर 1450 रुपए हो गई है। पिछले पांच महीने में डीएपी खाद की रेट 200 रुपए बढ़ाई गई है। इसी प्रकार पहले 50 किलो पोटाश के बैग की दर 700 रुपए थी, जो अब बढ़कर 850 रुपए हो गई है। इधर, कृषि विशेषज्ञों की सलाह के अनुसार कमजोर फसलों में तत्काल अच्छी पैदावार के लिए किसानों के सामने एकमात्र डीएपी व पोटाश ही विकल्प माना जाता है। कीमतों में बढ़ोतरी का नुकसान यह होगा कि कृषि पैदावार तो घटेगी ही साथ में देशभर के किसानों पर वित्तीय भार भी आएगा।
इस बार यह है लक्ष्य
रबी फसल की बुवाई के लिए डीएपी महत्वपूर्ण होता है। कभी-कभी तो डीएपी खाद की कमी से मारामारी बढ़ जाती है। इस बार जिले में 54 हजार 110 मीट्रिक टन यूरिया, 17 हजार 790 डीएपी व 15 हजार 500 मिट्रिक टन सिंगल सुपर फॉस्फेट खाद का लक्ष्य रखा गया है। कृषि विभाग अधिकारियों का कहना है कि महंगाई बढऩे की वजह से निर्माता कंपनियों ने डीएपी व पोटाश की कीमतों में बढ़ोतरी की है।
इसलिए जरूरी है डीएपी-पोटाश
पौधे की जड़ों का विकास अच्छी तरह हो जाता है। पौधे में रोगों का प्रकोप कम होता है। समय पर फसल में पकाव आ जाता है। उत्पादन में भी 30 से 50 फीसदी तक बढ़ोतरी होती है। इसी प्रकार पोटाश प्रतिकूल परिस्थितियों में पौधे का बचाव करता है। मिट््टी में नमी संरक्षित रखकर सिंचाई की जरूरत भी कम करता है। दाने का आकार व चमक बढ़ाता है।
किसान संगठनों
में रोष
इधर, डीएपी-पोटाश की कीमतों में बढ़ोतरी के साथ ही किसान संगठनों में रोष है। किसानों ने बताया कि सरकार ने डीएपी खाद की दरों में बढ़ोतरी कर किसानों के साथ फिर छलावा किया है।


फैक्ट फाइल
ठ्ठ जून में डीएपी खाद की दर-1250
ठ्ठ अक्टूबर में नए डीएपी खाद की दर-1450
ठ्ठ जून में पोटाश की दर-700 रुपए
ठ्ठ अक्टूबर में नए पोटाश की दर-850 रुपए

-पहले डीएपी की रेट 1250 रुपए थी अब 1400 रुपए हो गई है। सरकार ने डीएपी-पोटाश पर रेट बढ़ाई है, यह निर्णय ठीक नहीं है। इससे संगठन व किसानों में नाराजगी है।
रामावतार मीना, जिलाध्यक्ष, किसान संघ, सवाईमाधोपुर

-यूरिया, डीएपी व पोटाश बैग की दरों में वृद्धि सरकार का निर्णय है। हालांकि रेट बढ़ाने के बाद सरकार ने यूरिया पर 50 फीसदी व डीएपी पर 520.10 रुपए अनुदान देगी।
रामजीत मीना, आदान-प्रदान प्रभारी, खाद-बीज, सवाईमाधोपुर

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned