मार्च में जनवरी सी ठंडक

गंगापुरसिटी . मार्च माह में बदले मौसम के मिजाज ने जनवरी की सर्दी का एहसास करा दिया। बारिश के संग दबे पांव सर्दी भी चली आई है। शनिवार को रुक-रुककर बूंदाबांदी हुई। वहीं रविवार को चली सर्द हवाओं ने लोगों को ठिठुरा दिया। सुबह धूप-छांव की स्थिति बनी रही। बाद में धूप खिली, लेकिन सर्द हवाओं के जोर के चलते लोगों को सर्दी से राहत नहीं मिल सकी।

By: Rajeev

Updated: 03 Mar 2019, 08:42 PM IST

गंगापुरसिटी . मार्च माह में बदले मौसम के मिजाज ने जनवरी की सर्दी का एहसास करा दिया। बारिश के संग दबे पांव सर्दी भी चली आई है। शनिवार को रुक-रुककर बूंदाबांदी हुई। वहीं रविवार को चली सर्द हवाओं ने लोगों को ठिठुरा दिया। सुबह धूप-छांव की स्थिति बनी रही। बाद में धूप खिली, लेकिन सर्द हवाओं के जोर के चलते लोगों को सर्दी से राहत नहीं मिल सकी।


मौसम का मिजाज रात से ही बदल गया। सुबह आसमान बादलों से घिर गया और सर्द हवाएं चलीं। इससे मौसम में ठंडक बढ़ गई। सुबह बादलों की लुकाछिपी के बीच सूर्यदेव के दर्शन हुए। इसके बाद भी तेज सर्दी का जोर बना रहा। रविवार को छुट्टी का दिन होने के कारण लोग घरों में दुबके रहे। शाम होते ही सर्दी एक बार फिर गहरा गई। ऐसे में बाजारों में अन्य दिनों की तुलना में सूनापन देखा गया। तेज सर्द हवाओं के चलते लोगों को धूप में भी गलन का एहसास हुआ। दिनभर लोग गर्म कपड़ों में लिपटे रहे। बिगड़े मौसम ने किसानों को चिंता में डाल दिया है। किसान इन दिनों सरसों की फसल कटाई में जुटे हैं। वहीं गेहूं की फसल भी पकाव की ओर है। हर रोज बदल रहे मौसम के मिजाज के कारण किसानों के माथे पर चिंता की लकीर देखी जा रही है।

Rajeev Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned