बिना पानी के प्यासी प्याऊ

बिना पानी के प्यासी प्याऊ

Abhishek Ojha | Publish: Mar, 25 2017 06:03:00 PM (IST) Sawai Madhopur, Rajasthan, India

कस्बे की दोनों ग्राम पंचायतों में जगह- जगह प्याऊ तो बनी हुई हैं लेकिन वे प्यासी हैं। उनमें पानी की व्यवस्था नहीं होने के चलते वे केवल दिखावटी है। जबकि गर्मी की दस्तक के साथ ही पानी की दरकार बढ़ गई है।

कस्बे की दोनों ग्राम पंचायतों में जगह- जगह  प्याऊ तो बनी हुई हैं लेकिन वे प्यासी हैं।  उनमें पानी की व्यवस्था नहीं होने के चलते वे केवल दिखावटी है। जबकि गर्मी की दस्तक के साथ ही पानी की दरकार बढ़ गई है। 


उपखण्ड मुख्यालय पर महज दिखावटी बनी प्याऊ की समस्या को लेकर शुक्रवार को विद्यार्थी परिषद के सह जिला संयोजक मनीष मीणा के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने विकास अधिकारी घनश्याम मीणा को ज्ञापन सौंपा। 


उन्होंने ज्ञापन में बताया कि पट्टीखुर्द ग्राम पंचायत में तीन प्याऊ हंै, जिनमें से दो में वाटर कूलर भी लगा हुआ है, लेकिन पिछले सात महीनों से ये प्याऊ बिना पानी के प्यासी हैं।  कमोबेश ऐसी ही स्थिति पट्टीकलां ग्राम पंचायत की है। यहां बस स्टैंड पर पाताली हनुमान मंदिर तथा अटल सेवा केन्द्र के पास वाटर कूलर लगे हुए हैं लेकिन ये प्याऊ बंद हैं। 


ग्राम पंचायत प्रशासन द्वारा प्याऊ का संचालन ही शुरू नहीं किया है। वाटर कूलरों में बंद पड़े रहने से जंग आ रही हैं। इसी प्रकार पंचायत समिति तिराहे तथा चंगाबाड़ी पर भी सार्वजनिक प्याऊ पानी के अभाव में बंद हैं। 


प्याऊओं की इस स्थिति के कारण अब राहगीरों को गर्मी में पानी के लिए इधर उधर भटकना पड़ता है। एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने विकास अधिकारी से आग्रह किया है कि दोनों पंचायतों में बंद सार्वजनिक प्याऊओं का संचालन शुरू कराया जाए।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned