दुकान के ताले तोड़ शराब की पेटियां चोरी

दुकान के ताले तोड़ शराब की पेटियां चोरी

By: Subhash

Published: 14 Sep 2020, 07:47 PM IST

सवाईमाधोपुर. कोतवाली थाना क्षेत्र में रविवार देर रात रणथम्भौर रोड स्थित ताज होटल के पास एक अंग्रेजी शराब की दुकान के ताले तोड़कर दुकान में रखी शराब की पेटियों पर हाथ साफ कर दिया। सूचना पर सोमवार सुबह कोतवाली थाना पुलिस मौके पर पहुंची और दुकान का मौका मुआयना किया।
पीडि़त सेल्समेन गजेन्द्रसिंह नरूका ने बताया कि रात आठ बजे वे दुकान बंद कर घर चले गए थे। चोरी की घटना का सुबह करीब साढ़े चार बजे चला। पीडि़त के मिलने वाले एक व्यक्ति रणथम्भौर रोड पर प्रात:कालीन भ्रमण पर गए थे। इस दौरान शराब की दुकान का शटर आधा खुला मिला और ताला भी टूटा था। इसके बाद उन्होंने फोन कर सूचना दी। बाद में पीडि़त दुकानदार ने कोतवाली थाना पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने दुकान का मौका मुआयना किया। घटना के बाद पीडि़त ने कोतवाली थाने में चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई है।
चार लाख का बता रहे माल
पीडि़त ने बताया कि इस दौरान कुल 47पेटियां चोरी हुई है। इसमें बीयर सहित अन्य ब्राण्ड की शराब शामिल है। चोरों ने 10 पेटी आरएस, 4 पेटी ब्लेंडर, 9 पेटी आईबी, 7 पेटी एमसीडी, 7 पेटी बीयर, 4 पेटी बीटा व्हाइट, 3 पेटी ग्रीन गोल्ड, एक पेटी एटपीएम,2 पेटी मेजी मूवमेंट की पेटियां गायब मिली। इनकी कीमत करीब चार लाख रुपए है।
पिकअप के थे निशान
जानकारी के अनुसार चोरी के दौरान दुकान के सामने पिकअप के निशान मिले है। चोरों ने पेटियों को रखने के लिए पिकअप का इस्तेमाल किया। सुबह मौका मुआयना के दौरान पुलिस को पिकअप के टायर के निशान मिले है।
पुलिस खंगाल रही सीसीटीवी
जानकारी के अनुसार जिस अंग्रे्रजी शराब की दुकान में शराब की पेटियों की चोरी हुई थी, उसके ठीक सामने एक होटल में सीसीटीवी कैमरे लगे है। ऐसे में पुलिस अब वहां से सीसीटीवी कैमरे की मदद से चोरों का पता लगााने की कोशिश में जुटी है।
..................
इनका कहना है
शराब की दुकान में चोरी की रिपोर्ट दर्ज हुई है। दुकान के पास ही एक स्थान से सीसीटीवी कैमरे से फुटेज देखे जा रहे है। चोरों की तलाश की जा रही है।
अनिल मुण्ड, थानाधिकारी,कोतवाली सवाईमाधोपुर

Subhash Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned