VIDEO पुस्तकालयों का नहीं कोई धणी- धैरी

Rakesh Verma | Publish: Apr, 23 2019 11:34:38 AM (IST) | Updated: Apr, 23 2019 11:34:39 AM (IST) Sawai Madhopur, Sawai Madhopur, Rajasthan, India

विश्व पुस्तक दिवस विशेष....प्रदेश भर में पुस्तकालयों अध्यक्षों के 1900 पद रिक्त सरकारी विद्यालयों का मामला

सवाईमाधोपुर.एक ओर तो सरकार सरकारी विद्यालयों व महाविद्यालयों में डीजीटल लाइब्रेरी की परिकल्पना कर रही है वहीं दूसरी ओर प्रदेश के सरकारी विद्यालयों में पुस्कालय अध्यक्षों के पद लम्बे समय से रिक्त पड़े हैं। ऐसे में विद्यालयों में पुस्कालयों की सार संभाल नहीं हो पा रही है। साथ ही विद्यार्थियों को भी पुस्ताकलय का लाभ नहीं मिल पा रहा है वहीं देखरेख के अभाव में पुस्तकें धूल फांक रही है।
यह है नियम
राज्य सरकार की ओर से प्रदेश के राजकीय उच्च माध्यमिक व माध्यमिक विद्यालयों में पुस्तकालय अध्यक्ष पद स्वीकृत कर रखे हैं। जिन विद्यालयों में 200 से अधिक छात्र हैं वहां पर इनको लगाया जाता है। इसके बावजूद प्रदेश के सैकड़ों विद्यालयों में पुस्तकालय अध्यक्ष नहीं होने से हालत दयनीय है।प्रदेश में प्रथम द्वितीय व तृतीय श्रेणी में करीब 3293 पुस्तकालय अध्यक्ष के पद स्वीकृत हैं जिनमें से 1890 पद रिक्त हैं। वहीं अगर जिले की बात की जाए तो यहां महज 15 विद्यालयों में ही पुस्ताकलय अध्यक्ष है। पूर्व में सरकार की ओर से साक्षरता विभााग के माध्यम से
1998 के बाद से नहीं मिला पदोन्नति का लाभ
सरकार ने 1998 के बाद पुस्तकालय अध्यक्षों को पदोन्नति का लाभ नहीं दिया है। इसके चलते कई कर्मचारी बिना पदोन्नति के ही सेवानिवृत्त हो गए। राजस्थान पुस्तकालय सेवा परिषद के कर्मचारी संघ ने इसकी आवाज उठाई जिसके बाद हाल ही रा्यय सरकार ने द्वितीय ग्रेड के 551 पुस्तकालय अध्यक्षों को पदोन्नत करने का आदेश दिया। साथ ही सरकार ने 562 पदों पर तृतीय श्रेणी में भर्ती के आदेश दिए हैं लेकिन अब तक यह भर्ती भी नहीं हो सकी है।
यह है निर्धारित योग्यता
राजकीय विद्यालयों में पुस्तकालय अध्यक्ष के लिए अभ्यार्थी कम से कम 12 वीं पास होना अनिवार्य है साथ ही अभ्यार्थी के पास मान्यता प्रज्ञप्त संस्थान से पुस्तकालय का डिप्लोमा होना अनिवार्य है।
लम्बे समय की जा रही मांग
सरकारी विद्यालयों में पुस्तकालय अध्यक्षों के रिक्त पदों को भरने की लम्बे समय से मांग की जा रही है। महात्मा गांधी पुस्तकालय वाचनालय प्रेरक संघ की जिला शाखा के कार्यकर्ताओं ने इस संबंध में कई बार जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा है लेकिन अब तक उनकी मांगों पर कोई सुनवाई नहीं किया जा रही है।
आंक डे एक नजर में....
3293 पुस्तकालय अध्यक्ष के पद स्वीकृत हैं प्रदेश में
1890 पद रिक्त है प्रदेश में
13685 सरकारी विद्यालय है प्रदेश में
278 राउमावि व रामावि विद्यालय हैं जिले में
15 राउमावि व रामावि विद्यालयों में पुस्तालय अध्यक्ष
इनका कहना है....
प्रदेश भर में सरकारी विद्यालयों में पुस्कालय अध्यक्ष की भर्ती नहीं की गई है। जिले में महज 15 विद्यालयों में ही पुस्तालय अध्यक्ष है।
- चन्द्रशेखर जैमनी, परियोजना समन्वयक, समग्र शिक्षा अभियान, सवाईमाधेापुर।
ये बोले प्ररेक संघ के पदाधिकारी....
जिले के सरकारी विद्यालयों में पुस्तकालय प्ररेक व अध्यक्षों के पद रिक्त हैं। कई बानर मांग भी है पर कोई सुनवाई नहीं हो रही है।
- आशाराम मीणा, ब्लॉक अध्यक्ष, महात्मा गांधी पुस्ताकलय वाचनालय प्रेरक संघ, सवाईमाधोपुर।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned