अक्षय तृतीया पर प्रत्येक विवाह की निगरानी रखें अधिकारी

अक्षय तृतीया पर प्रत्येक विवाह की निगरानी रखें अधिकारी

By: Subhash

Updated: 13 May 2021, 09:07 PM IST

सवाईमाधोपुर. जिला कलक्टर राजेन्द्र किशन ने सभी प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों को शुक्रवार को अक्षय तृतीया पर होने वाली शादियों पर विशेष निगरानी रखने पर जोर दिया। उन्होंने बताया कि अभी तक जिले में ऑन लाइन पोर्टल पर पंजीकृत 878 शादियों में से 697 शादियां अक्षय तृतीया पर होने की सूचना है।
उन्होंने कहा कि इस समय हालात खराब हैं, शादियों के आयोजन से सबके स्वास्थ्य को खतरा है। यदि कोई आयोजक फिर भी नहीं माने तो उसे समझाए कि अधिकतम 11 लोगों की उपस्थिति में बिना किसी टेंट, हलवाई एवं भोज का आयोजन किए बिना शादी सम्पन्न कराए। गाइड लाइन की पालना नहीं करने पर एक लाख रूपए का जुर्माना करने के साथ ही महामारी अधिनियम के अन्तर्गत मुकदमा दर्ज होगा। जिला कलक्टर ने गुरुवार को वीसी के माध्यम से पत्रकार वार्ता में मीडिया प्रतिनिधियों से भी लोगों को जागरूक करने में सहयोग करने की अपील की। इन शादियों की निगरानी करने के लिए क्लस्टर बनाकर ब्लॉक एवं जिला स्तर से अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है, जो शादियों में गाइडलाइन की पालना की निगरानी करेंगे। उन्होंने बताया कि सभी एसडीएम और तहसीलदार से मुस्लिम धर्मगुरूओं से सम्पर्क कर ईदुल फितुर का त्यौहार घर पर ही सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मनाने को कहा है।
ये है चिकित्सालय में संसाधनों की उपलब्धता
कार्यवाहक पीएमओ डॉ सुनील शर्मा एवं गंगापुर पीएमएओ डॉ. दिनेश गुप्ता ने बताया कि गंभीर अवस्था में आने वाले मरीज भी बेहतर चिकित्सा सुविधा मिलने से सही हुए है। गुरूवार को पिछले 24 घंटे में सामान्य चिकित्सालय से 32 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे। इसी प्रकार गंगापुर अस्पताल से 17 मरीज को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया गया। उन्होंंने बताया कि सवाई माधोपुर में कोरोना मरीजों के लिए 148 एवं गंगापुर में 70 बेड पर ऑक्सीजन पाइप लाइन, सिलेंडर एवं कंसंट्रेटर आदि के माध्यम से उपलब्ध है।
2137 वाहन सीज 18 हजार से अधिक चालान
पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी ने बताया कि 2137 वाहन सीज कर लगभग 15 लाख रूपए के चालान एमवी एक्ट में किए गए है। इसी प्रकार सोशल डिस्टेंसिंग के 18 हजार से अधिक चालान किए गए है।
चिकित्सकों की प्रतिनियुक्ति करें समाप्त
बामनवास क्षेत्र से अन्य प्रतिनियुक्त चिकित्सकों की प्रतिनियुक्ति समाप्त करने तथा चिकित्सकों के कार्यग्रहण के संबंध में सीएमएचओ से रिपोर्ट देने के निर्देश दिए। वहीं रिटायर्ड चिकित्सक एवं पैरामेडिकल स्टाफ चाहे वे सिविल के हो या आर्मी के उनकी सूची तैयार करें, इससे कोरोना के इस दौर में उनकी सेवाएं ली जा सकें।
रिक्त पदों को टेंपरेरी बेसिस पर भरे
कलक्टर ने सीएमएचओ को पैरा मेडिकल एवं नर्सिंग स्टाफ के रिक्त पदों को टेंपरेरी बेसिस पर तत्काल भर्ती करने के निर्देश दिए। प्रतिदिन ग्रामीण क्षेत्र में जाने वाली चल चिकित्सा यूनिट के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों को चिकित्सा सुविधा मुहैया करवाएं। पत्रकार वार्ता में वीसी के माध्यम से एडीएम गंगापुर नवरतन कोली, एडीएम सवाई माधोपुर डॉ सूरज सिंह नेगी, सीएमएचओ डॉ तेजराम मीना, डॉ सुनील, डॉ दिनेश आदि मौजूद थे।

Subhash Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned