मोर मुकुट बंसीवारे, जन्में जग के रखवारे

मोर मुकुट बंसीवारे, जन्में जग के रखवारे

Vijay Kumar Joliya | Publish: Sep, 04 2018 06:23:22 PM (IST) Sawai Madhopur, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news

सवाईमाधोपुर. जिले भर में सोमवार को भगवान कृष्ण का जन्मदिवस जन्माष्टमी के रूप में धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर मंदिरों में धार्मिक आयोजनों की धूम रही। मंदिरों में सुबह से ही भजन कीर्तन सत्संग आदि कार्यक्रमों का दौर शुरू हो गया। यह सिलसिला देर रात तक जारी रहा। रात बारह बजे भगवान कृष्ण के जन्म के साथ ही मंदिरों में अभिषेक, पूजन आदि कई कार्यक्रम हुए। बजरिया स्थित शिव मंदिर में लगी कृष्ण प्रतिमा का रात बारह बजे जलाभिषेक किया गया। इसके बाद प्रसाद वितरण हुआ। इससे पूर्व स्थानीय कलाकारों द्वारा भजन कीर्तन का कार्यक्रम हुए।

झांकियों ने मोहा मन
जन्माष्टमी के अवसर पर मंदिरों भगवान कृष्ण व अन्य देवी देवताओं की आकर्षक झांकियां सजाई गई। इसके अतिरिक्त मंदिरों में इस अवसर पर विशेष सजावट व रोशनी की गई। कई मंदिरों में झांकियों की सजावट के लिए बाहर से कलाकार भी बुलाए गए। इसी क्रम में आदर्श विद्या मंदिर मानटाउन, शहर आदि में भगवान कृष्ण, भारत माता, शिव पार्वती आदि की सजीव झांकियां सजाई गई। गौतम आश्रम में भी आकर्षक झांकियां सजाई गई। रात में प्रसादी वितरण किया गया। इसी क्रम में हम्मीर सर्किल पर भी छप्पन भोग की झांकी सजाई गई।

मंदिरों में उमड़े श्रद्धालु
भगवान कृष्ण व अन्य देवी देवताओं की झांकियों को देखने के लिए रात को जिला मुख्यालय स्थित मंदिरों में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ रही। सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए मंदिरों पर पुलिस जवान भी तैनात किए गए।

नंदोत्सव आज
इसी क्रम में मंगलवार को मंदिरों में नंदोत्सव का आयोजन किया जाएगा। शिव मंदिर में भजन संध्या होगी। इसमें राजू खण्डेलवाल, रेशमी शर्मा आदि कलाकार प्रस्तुतियां देंगे। गौतम आश्रम में मंगलवार दोपहर बारह बजे से नंदोत्सव मनाया जाएगा। कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर बजरिया इन्दिरा कॉलोनी स्थित एक निजी स्कूल में राधा-कृष्ण के वेश में सजे बच्चे आकर्षण का केन्द्र रहे। विद्यालय की निदेशक सीमा बंसल ने बताया कि इस अवसर पर बच्चों ने भगवान कृष्ण के भजनों पर नृत्य भी किया। परमहंस योगाश्रम में योग सेवा दल समिति के तत्वावधान में कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव मनाया गया।


शिवाड़ सहित आसपास क्षेत्र में सोमवार को कृष्ण जन्माष्टमी मनाई गई। कस्बे के श्रीकल्याण मंदिर व घुश्मेश्वर मंदिर में दिनभर भजन, कीर्तन, रामधुनी आदि कार्यक्रम हुए। मालियों के मोहल्ले गोपाल मंदिर में राधा-कृष्ण की झांकी सजाई। इसी प्रकार युवा जागा संघ के सदस्यों ने गोशाला में गोवंशों को चारा डाला। महावीर नगर सेवा समिति के तत्वावधान में आदिनाथ नगर स्थित राधामाधव मंदिर में राधा-कृष्ण, खाटू श्याम, लड््डू गोपाल, शिव-पार्वती की झांकी सजाई गई।


खण्डार. प्रमुख मंदिरों में भगवान कृष्ण का पंचामृत अभिषेक किया गया। फूल बंगला, शृंंगार झांकी सजाई गई। लोगों ने भगवान के जन्म पर उपवास रखा। गणेश माध्यमिक आदर्श विद्या मंदिर में विभिन्न प्रकार के स्वरूपों की सजीव झांकियां सजाई गई। इन्हें देखने के लिए जन सैलाब उमड़ा। श्रीजी व नृसिंह मंदिर में भजनों के कार्यक्रम हुए। रात्रि 12 बजे ठाकु र जी की आरती कर लोगों ने उपवास खोला। रामेश्वरधाम में श्रीजी की झांकी सजाई।

बौंली. नवयुवक मंडल द्वारा श्रीकृष्ण की शोभायात्रा निकाली गई। यात्रा खेड़ापति बालाजी से शुरू होकर कई मार्गों से गुजरी।

पीपलवाड़ा. कस्बे सहित बागडोली, थड़ोली, निमोद, हिन्दपुरा, जटावती, गंगवाड़ा, डिडवाडी, कोलाड़ा, शिशोलाव, बहनोली आदि गांवों में जन्माष्टमी मनाई गई। कस्बे के सीतारामजी मंदिर, हनुमान मन्दिर, राधा-कृष्ण मन्दिर में जन्मोत्सव के कार्यक्रम हुए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned