रामेश्वर धाम चतुर्भुज नाथ त्रिवेणी संगम पर अमावस्या के पावन पर्व पर लोगों ने लगाई डुबकी

रामेश्वर धाम चतुर्भुज नाथ त्रिवेणी संगम पर अमावस्या के पावन पर्व पर लोगों ने अमावस्या पर लगाई डुबकी

By: Abhishek ojha

Published: 16 May 2018, 01:31 PM IST

खण्डार. यहां रामेश्वर धाम चतुर्भुज नाथ त्रिवेणी संगम पर अमावस्या के पावन पर्व पर लोगों ने पवित्र डुबकी लगाई। इससे पूर्व ही चतुर्दशी की पूर्व संध्या पर ही से ही लोगों का आवागमन शुरू हो गया। पूर्व संध्या पर कई स्थानीय लोगों के द्वारा जागरण किया गया। इसके बाद अमावस्या की सुबह भगवान चतुर्भुज नाथ की मंगला आरती के दर्शन किए । त्रिवेणी संगम पर डुबकी लगाकर अमावस्या पर लोगों ने जमकर दान पुण्य किए। अधिकमास के महात्मय को विद्वानों के द्वारा लोगों को सुनाया गया। परशराम घाट पर रूद्राभिषेक कालसर्प दोष शांति आदि धार्मिक अनुष्ठान किए गए। इस मौके पर दूर-दूराज के क्षेत्र से लोगों ने भगवान के चरणों मे ढोक लगाई। अमावस्या के इस पर्व पर स्थानीय लोगों के अलावा सवाईमाधोपुर, करौली, गंगापुर, कोटा , टोंक, जयपुर , मध्यप्रदेश के श्योपुर, सामरसा, जेणी, मानपुर आदि जगहों से हजारों की संख्या में लोग आए।


कार्यकारिणी गठित
सवाईमाधोपुर. महात्मा ज्योतिबा फुले युवा राष्ट्रीय संस्थान की जिला शाखा की कार्यकारिणी का गठन मंगलवार को किया गया। जिलाध्यक्ष कन्हैयालाल सैनी ने बताया कि इसमें हंसराज सैनी को वरिष्ठ उपाध्यक्ष, कमलकिशोर सैनी, हनुमान सैनी, मुरारीलाल सैनी व रामराज सैनी को उपाध्यक्ष, राधेश्याम सैनी, सुरेन्द्र कुमार सैनी व कमलेश सैनी को महामंत्री, मुकेश सैनी को कोषाध्यक्ष, रामकल्याण सैनी, जितेन्द्र सैनी, हंसराज सैनी(डीलर) व भोलाराम सैनी को मंत्री व जयप्रकाश सैनी को प्रवक्ता मनोनीत किया गया। इसके अतिरिक्त सात सदस्य भी मनोनीत किए गए।


भागवत कथा आज से
भगवतगढ़. ग्राम पंचायत जटवाड़ा कलां में बनास नदी के किनारे पर स्थित चाणक्या दह बालाजी पर बुधवार से भागवत कथा शुरू होगी। सरपंच बुगलचंद मीना ने बताया कि कई गांवों के सामूहिक सहयोग से कथा का आयोजन किया जा रहा है। सरपंच ने बताया कि कथा के प्रथम दिवस बुधवार को कलश यात्रा निकाली जाएगी व कथा समापन पर नवकुंडीय यज्ञ का आयोजन किया जाएगा।

सरपंच ने बताया कि उन्होंने कथा के दौरान श्रद्धालुओं के लिए नियमित बिजली, पानी, चिकित्सा आदि की व्यवस्थाएं उपलब्ध कराने के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों से मिलकर उन्हें लिखित रूप से अवगत कराते हुए व्यवस्थाएं करने का आग्रह किया। सरपंच ने बताया कि बालाजी के पास स्थित बनास नदी की गहराई बहुत अधिक होने से बनास पर गोताखोरों की व्यवस्था के लिए पुलिस अधीक्षक को भी लिखित रूप से आग्रह किया। आयोजन से जुड़े मुकेश गुर्जर ने बताया कि देवानंद गिरी महाराज के सानिध्य में कार्यक्रम होगा। इसकी तैयारी की जा रही है। कथा समय सुबह दस से शाम पांच बजे तक रहेगा।

Abhishek ojha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned