वर्तमान में करें भविष्य की तैयारी

वर्तमान में करें भविष्य की तैयारी

Abhishek Ojha | Publish: Sep, 07 2018 04:10:05 PM (IST) Sawai Madhopur, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news

सवाईमाधोपुर. सकल दिगम्बर जैन समाज के तत्वावधान में गुरुवार को आलनपुर स्थित चमत्कार जैन मंदिर में चातुर्मास कर रहे सुकुमालनंदी ने प्रवचन के दौरान श्रावकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि भूतकाल कचरे के डिब्बे के समान है। जिसे बीत जाने पर भूल जाना चाहिए, वर्तमान काल समाचार पत्र की तरह है। जिसे संवारना चाहिए तथा भविष्य काल प्रश्न पत्र के समान है जिसके लिए वर्तमान में तैयारी करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार परमाणु से छोटी कोई चीज नहीं होती, आसमान से बड़ी कोई चीज नहीं होती उसी प्रकार धर्म से बढ़कर कुछ नहीं होता। अहिंसा मय धर्म से ही शांति सम्भव है। वर्षायोग समिति के प्रचार प्रसार मंत्री प्रवीण कुमार जैन ने बताया कि धर्म सभा का आगाज बाहुबली गढिय़ा एवं अहमदाबाद के प्रकाश चन्द जैन ने भगवान महावीर की तस्वीर के समक्ष दीप प्रज्वलन कर किया। वहीं अजीत बडजात्या ने मंगलचरण की प्रस्तुति दी। धर्मसभा के मंच पर मुनि सुनयनंदीजी भी विराजमान थे।


शिक्षकों को किया सम्मानित : सकल दिगम्बर समाज द्वारा वर्षायोग समिति के तत्वावधान में शिक्षक दिवस के अवसर पर समाज के शिक्षक- शिक्षिकाओं का सम्मान समारोह आलनपुर स्थित चमत्कारजी के वर्षायोग पाण्डाल मेंसम्मान समारोह हुआ। समारोह के मुख्य अतिथि कैलाश चन्द जैन श्रीमाल एडवोकेट थे। जिनका वर्षायोग समिति के अध्यक्ष डॉं. शिखर चन्द जैन, स्वागताध्यक्ष व समाज अध्यक्ष पदम कुमार छाबडा तथा कार्याध्यक्ष चन्द्रप्रकाश छबडा ने अभिनंद किया। वर्षायोग समिति के प्रचार संयोजक हरसीलाल जैन एवं महामंत्री महावीर बज ने समारोह के मंच का संचालन करते हुए सर्वप्रथम सर्वपल्लवी डॉं राधाकृष्णण के जीवन का परिचय दिया। इस अवसर पर के 25 शिक्षक-शिक्षिकाओं का अभिनंदन किया। इस दौरान बड़ी संख्या में श्रद्धालु व समाज बंधु मौजूद थे।


जिनालय में गूंजे जिनेन्द्र के जयकारे
गंगापुरसिटी. श्री श्वेताम्बर जैन पल्लीवाल समाज के पर्युषण पर्व गुरुवार से शुरू हो गए। पहले ही दिन मंदिर जिनेन्द्र भगवान के जयकारों से गूंज उठा। पहले दिन प्रतिक्रमण, स्नात्र पूजा, शास्त्र वाचन, सामूहिक आरती व भजन संध्या के कार्यक्रम हुए। इनमें श्रद्धालुओं ने भाग लिया। अल सुबह मंदिर जैन समाज के अध्यक्ष रीतेश पल्लीवाल सहित समाज के पदाधिकारियों ने संयुक्त रूप से भगवान पाŸवनाथ का पूजन किया। श्रावकों ने आज से उपवास भी शुरू किए। लक्की डॉ में श्रावकों ने भाग लिया। उधर, पर्युषण पर्व को लेकर समाज के लोगों में खासा उत्साह बना हुआ हैं। अध्यक्ष ने बताया कि संवत्सरी के दिन आठ दिन नियमित पूजा करने वालों को बहुमान किया जाएगा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned