स्टेशन पर किया विरोध प्रदर्शन

स्टेशन पर किया विरोध प्रदर्शन
स्टेशन पर किया विरोध प्रदर्शन

Rajeev Pachauri | Updated: 19 Sep 2019, 08:50:32 PM (IST) Sawai Madhopur, Sawai Madhopur, Rajasthan, India

गंगापुरसिटी . ऑल इंडिया रेलवे मेंस फैडरेशन के आह्वान पर वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन के तत्वावधान में बुधवार को रेल कार्मिकों ने रेलवे स्टेशन पर अवध एक्सप्रेस के समक्ष नारेबाजी कर केन्द्र सरकार की नीतियों की निंदा की। इसके बाद मंडल उपाध्यक्ष नरेन्द्र जैन एवं युवा शाखा के जोनल अध्यक्ष नरेश मालव के नेतृत्व में रैली निकाली गई।

गंगापुरसिटी . ऑल इंडिया रेलवे मेंस फैडरेशन के आह्वान पर वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन के तत्वावधान में बुधवार को रेल कार्मिकों ने रेलवे स्टेशन पर अवध एक्सप्रेस के समक्ष नारेबाजी कर केन्द्र सरकार की नीतियों की निंदा की। इसके बाद मंडल उपाध्यक्ष नरेन्द्र जैन एवं युवा शाखा के जोनल अध्यक्ष नरेश मालव के नेतृत्व में रैली निकाली गई।


इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि सरकार की दोषपूर्ण नीतियों के चलते मुनाफे में चल रही इकाईयों को उद्योगपतियों के हवाले किया जा रहा है। इसके चलते रेलवे की सेवा करने की चाहत रखने वाले युवाओं में असुरक्षा की भावना है। लोको शाखा के अध्यक्ष श्रीप्रकाश शर्मा ने कहा कि वेसेरेयू के महामंत्री मुकेश के संघर्ष के चलते रनिंग कर्मचारियों के एरियर भुगतान किया जाना तय हो सका।

यातायात शाखा अध्यक्ष चंद्रशेखर शर्मा, हरीप्रसाद मीना एवं सचिव राजेश ने सभी कार्मिकों से एकजुट रहने की बात कही। इस अवसर पर यूनियन पदाधिकारी अशोक गुप्ता, आर.पी. मंगल, भंवरसिंह, मनोज शर्मा, राकेश शर्मा, वीरेंद्र मीणा, मदनमोहन मीणा, हरकेश मीणा, राजकुमार मीणा, मनोज कुमार, एम. रघुराज सिंह, गजराज सिंह, प्रसादी राम ऋ षि पाल सिंह, सीताराम बैरवा, प्रेमराज मीणा, हरिमोहन गुर्जर, महेश मीणा, सतपाल सिंह, आदिल खान, मोहम्मद नदीम, प्रेमचंद उपाध्याय, जुनेद खान, मानवेंद्र पाठक एवं सूर्य प्रकाश शर्मा आदि मौजूद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned