गड्ढों व बरसाती पानी की जुगलबंदी, हादसे का अंदेशा

- टोंक-चिरगांव नेशनल हाइवे के हाल, जिम्मेदारों की अनदेखी

By: Arun verma

Published: 25 Aug 2020, 07:38 PM IST

खण्डार. राष्ट्रीय राजमार्ग-552 टोंक चिरगांव पर जगह-जगह गड्ढे और उनमें भरे बरसाती पानी की जुगलबंदी वाहन चालकों व राहगीरों के लिए परेशानी का सबब है। इससे राजमार्ग पर होने वाली दुर्घटनाओं का ग्राफ लगतार बढ़ता जा रहा है। इधर, जिम्मेदार अधिकारी हाथ पर हाथ धरे
बैठे हैं।

187 करोड़ की सडक़
ग्रामीण अख्तर खान, देवीशंकर बैरवा व बुद्धिराम आदि ने बताया कि 187 करोड़ की लागत से बनी सडक़ उपखण्ड मुख्यालय की लाइफलाइन है। लेकिन गुणवत्ताहीन कार्य होने से सडक़ जगह-जगह गड्ढे हो गए हैं। तेज बारिश के बाद तो सडक़ का हाल और बुरा हो जाता है।

आए दिन हाइवे पर हादसे हो रहे हैं, लेकिन इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। जिससे दुर्घटना की आशका बनी हुई है। ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री के नाम पत्र भेजकर कार्रवाई की मांग की है।

सीवर चैम्बर चोक, सडक़ पर बह रहा गंदा पानी
सवाईमाधोपुर. आदर्श नगर बी मुख्य बाजार भोपाल नगर मेंं सीवर चैम्बर चोक होने के बाद गंदा पानी सडक़ पर बह रहा है। इससे लोग परेशान है। पूर्व पार्षद बिहारी लाल महावर, छीतर लाल महावर, हरीश कप्तान, योगेंद्र महावर, दिनेश दीक्षित, रवि महावर व रिंकू महावर आदि ने बताया कि

नगर परिषद प्रशासन कई दिनों से मशीन खराब होने का बहाना बना रहा है, इससे सीवरेज की सफाई नहीं हो रही है। वार्ड वासियों ने सीवरेज एवं नालियों से रोड पर फैल रही गंदगी को लेकर पार्षद बिशनलाल महावर को अवगत करा चुके हैं, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

इसका खामियाजा स्थानीय लोगों को भुगतन पड़ रहा है। स्थानीय लोगों ने नगरपरिषद आयुक्त से फिर से सीवरेज की सफाई कराने की मांग की है।

Arun verma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned