अवैध बजरी खनन: पुलिस की रैकी करते पांच गिरफ्तार

- तीन बाइक व पांच खाली ट्रैक्टर-ट्रॉली जब्त

By: Arun verma

Published: 26 Dec 2020, 07:43 PM IST

मलारना डूंगर. अवैध बजरी खनन, निगर्मन व भण्डारण पर पुलिस का सख्त पहरा है। इसके बावजूद बनास नदी से अवैध बजरी खनन करने जा रहे पांच ट्रैक्टर-ट्रॉली पुलिस के हत्थे चढ़ गए। पुलिस ने पांचों वाहनों को जब्त कर मलारना डूंगर थाने में खड़ा किया।

इससे पूर्व पुलिस की रैकी के आरोप में अलग अलग स्थानों से पांच लोगों को गिरफ्तार कर तीन बाइक जब्त की। सभी गिरफ्तार आरोपी सपोटरा व रामगढ़ पचवारा व बौंली थाना इलाके से हैं। यह सभी मलारना स्टेशन व भाड़ौती पुलिस चौकी इलाके में गत शुक्रवार रात पुलिस मूवमेंट की रैकी कर खननकर्ताओं को सूचना दे रहे थे।

थानाधिकारी राकेश कुमार यादव ने बताया कि बनास नदी क्षेत्र में अवैध बजरी खनन की रोकथाम के लिए थाना पुलिस के साथ ही मलारना स्टेशन व भाड़ौती पुलिस चौकी के जवान लगातार गश्त कर रहे हैं। मलारना स्टेशन पुलिस चौकी प्रभारी भरतलाल गुर्जर ने बताया कि मलारना स्टेशन बनास नदी क्षेत्र में गश्त के दौरान बनास नदी के आस-पास तीन बाइकों पर कुछ लोग घूम रहे थे।

देर रात पुलिस को देख आरोपी झाडिय़ों में छिपने लगे। संदेह होने पर पुलिस ने इन्हें पकड़ कर देर रात बनास नदी के पास घूमने का कारण पूछा तो पहले बहाने बनाने लगे। जब सख्ती से पूछा तो आरोपियों ने अवैध बजरी खनन के लिए पुलिस की रैकी करने की बात स्वीकार ली। इस पर दिनेश कमार मीना, अमिताभ मीना व धारासिंह गुर्जर निवासी भरतून थाना सपोटरा को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर इनके पास से तीन बाइकें भी जब्त की है।

इधर, शनिवार अल सुबह पांच ट्रैक्टर ट्रॉली बनास नदी में अवैध बजरी खनन करने जाते मिले। इनमें लकड़ी के फट्टे लगे थे। खाली ट्रालियों में बजरी के निशान थे। बनास नदी की तरफ जाने का कारण पूछा तो आरोपी खेतों पर जाने का बहाना बनाने लगे। जब चालकों से ट्रैक्टर ट्रॉलियों के दस्तावेज मांगे तो इनके पास कोई दस्तावेज नहीं थे।

इस पर पांचों ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को एमवी एक्ट में जब्त किया गया। इसी तरह भाड़ौती पुलिस ने चौकी ने भी दो लोगों को बजरी की कार्रवाई के दौरान पुलिस रैकी के आरोप में गिरफ्तार किया है। एएसआई बाबुद्दीन ने बताया कि दिलखुश पुजारी निवासी दहलोद थाना बौंली व नन्दकिशोर मीना निवासी रामगढ़ पचावारा को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया।

Arun verma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned