scriptSoldiers' village Rendayal Gurjar: Seeds of bravery sprout in the soil | सैनिकों का गांव रेंडायल गुर्जर: माटी में फूटते हैं वीरता के अंकुर, इंदिरा का दिया ताम्रपत्र दे रहा गवाही | Patrika News

सैनिकों का गांव रेंडायल गुर्जर: माटी में फूटते हैं वीरता के अंकुर, इंदिरा का दिया ताम्रपत्र दे रहा गवाही

सैनिकों का गांव रेंडायल गुर्जर: माटी में फूटते हैं वीरता के अंकुर, इंदिरा का दिया ताम्रपत्र दे रहा गवाही

सवाई माधोपुर

Published: January 15, 2022 12:58:58 pm

गंगापुरसिटी. वैसे तो राजपूताने की माटी के कण-कण में वीर शहीदों की शौर्य गाथाएं महकती है, लेकिन सवाईमाधोपुर जिले के अंतिम छोर पर गंभीर नदी के समीप बसे रेंडायल गुर्जर गांव की माटी में भी दशकों से वीरता के अंकुर फूटते रहे है। यहां के नौजवानों ने आजाद हिंद फौज से लेकर करगिल युद्ध में दुश्मन फौजों से लोहा लेकर उन्हें घुुटने टेकने पर मजबूर कर दिया था। जोश व देशभक्ति के जज्बे से ओतप्रोत यहां के सैकड़ों युवा आज भी फौज में भर्ती के मंसूबे लिए सुबह 4 बजे गंभीर नदी की रेत में पसीना बहाते नजर आते हैं।
खूंटी के टंगे मेडल व वर्दी बढ़ाते घर की शोभा
आम घरों को जहां आर्टिफिशिल सामग्रियों से सजाया जाता है। वहीं रेंडायल गांव के घरों में खूंटी के टंगी फौज की वर्दी व मेडल शोभा बढ़ाते नजर आते है, जो कि यहां के लोगों की वीरता व साहस को भी बयां करते है। ग्रामीण बताते है कि यहां अमूमन हर परिवार से एक व्यक्ति का फौज से सम्बन्ध है। फौज में भर्ती होना नौकरी नहीं एक परम्परा की तरह है। हालांकि कई लोग पुलिस, शिक्षा व चिकित्सा समेत अन्य सैक्टर में भी नौकरियां कर रहे है।
सुबह 4 बजे से तैयारी
गांव के युवा सतवीर सिंह ने बताया कि गांव के युवा कॅरियर में सबसे अधिक तवज्जो फौज की नौकरी को देते आए हंै। अन्य नौकरियां दूसरी प्रायरिटी मानी जानी है। उन्होंने स्वयं भी फौज की तैयारी की है। किशोर अवस्था से ही फौज की तैयारी में जुट जाते है। करीब 125 से 150 तक की संख्या में युवा प्रतिदिन गांव के समीप गंभीर नदी के पाट पर फैली रेत में श्रीमहावीरजी स्थित देवनारायण मंदिर तक दौड़ लगाते है। इसके बाद पीटी व कसरत आदि का सिलसिला चलता रहता है।
शहादत में भी सिरमौर
ग्रामीणों ने बताया कि यहां के किंदूरी सिंह गुर्जर 1999 में करगिल युद्ध में लड़ते हुए महज 30 की आयु में शादी के चंद माह बाद ही शहीद हो गए।। किंदूरी को सीने व शरीर के अन्य हिस्सों में 7 गोलियां लगी थी, लेकिन उन्होंने साहस से मुकाबला करते हुए पाकिस्तान के कई घुसपैठियों को ढेर कर दिया। किंदूरी फौज के बेहतरीन धावक भी रहे। इसके अलावा कैप्टन जसराम समेत अन्य सपूतों को भी शहादत मिली।
इंदिरा ने दिया ताम्र पत्र
रेंडायल गुर्जर निवासियों ने बताया कि यहां के सैनिक रघुवीर सिंह गुर्जर ने सुभाष चंद बोस की आजाद हिंद फौज में शामिल होकर देश की आजादी के लिए लड़ाई लड़ी। बाद में प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने ताम्रपत्र भी दिया था। वहीं रामहंस गुर्जर ने प्रथम विश्व युद्ध में भाग लिया था।
करीब 500 से अधिक फौजी
गांव के कैप्टन तुलसीराम, मेजर मर्दान सिंह, कैप्टन रमेश सिंह, कैप्टन समय सिंह व बहादूर सिंह आदि आज भी युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत बने हुए है। ग्रामीणों के अनुसार 4 हजार मतदाता वाले गांव में 550 से अधिक फौजी है। जिसने से करीब 250 जने सेवाकाल पूरा कर घर आ चुके है। वर्तमान में 300 करीब फौज में तैनात है।
सैनिकों का गांव रेंडायल गुर्जर: माटी में फूटते हैं वीरता के अंकुर, इंदिरा का दिया ताम्रपत्र दे रहा गवाही
गंगापुरसिटी. भारत सरकार कीओर से दिया गया ताम्रपत्र।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

UP Assembly Elections 2022: भाजपा ने किसानों से झूठा वादा किया, उन्हें धोखा दिया, प्रेस कांफ्रेंस में बोले अखिलेशदिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू खत्म, आज से नई गाइडलाइंस के साथ मेट्रो सेवाएं शुरूउत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनाव 2022 की डेट का ऐलान, जानें कितने सीटों के लिए और कब आएगा रिजल्टमुस्लिम वोटों को लुभाने के लिए बसपा ने किया बड़ा खेल, बाकी हैरानरेलवे भर्ती 2022: रेलवे में नौकरी का सुनहरा मौका, इन पदों पर सीधे इंटरव्यू के जरिए हो रही भर्तीओमिक्रॉन के नए वैरिएंट की एंट्री, मरीजों के सैंपल भेजे दिल्ली, 1418 पुलिसवाले भी संक्रमितछत्तीसगढ़ में कोरोना का कहर, 48 घंटे में 30 मरीजों की मौत, सबसे ज्यादा 8 संक्रमितों की मौत दुर्ग मेंCORONA New Guide Line: वीकेंड कर्फ्यू को किया खत्म, मॉल भी अब रात 10 बजे तक खुलेंगे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.