झूलते तार दे रहे हादसों को न्योता, विद्युत निगम की अनदेखी

आमजन के लिए, बने परेशानी का सबब

मलारना डूंगर. विद्युत निगम की लापरवाही के चलते यहां मलारना स्टेशन कस्बे के निकट खेतों में झूलते 11 केवी बिजली के तार दुर्घटना को दावत दी रहे हंै। हादसे की आशंका के चलते अब किसान ने खेत में बुवाई भी नहीं की है। बिजली के तारों की यही स्थिति लगभग पूरे क्षेत्र में बनी हुई है। कहीं घरों की छतों को छूते तो कहीं खेतों में लटकते बिजली के तार आमजन के लिए परेशानी बनी हुई है। मलारना स्टेशन निवासी किसान कालूराम गुर्जर ने बताया कि वह खेतों में झूूलते 11 केवी बिजली के तारों को ठीक करने के लिखित व मौखिक रूप से बिजली निगम को शिकायत कर चुका है। लाइनमैन से लेकर निगम के उच्च अधिकारियों तक गुहार लगाई, लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया।

किसान कालूराम का आरोप है कि निगमकर्मी इस काम को अपने स्तर पर करवाने को सलाह देते हैं। ऐसे में किसान का कहना है कि निजी स्तर पर राशि खर्च कर झूलते तारों को सही भी करवा लें, लेकिन 11 केवी को बिजली लाइन पर कोई हादसा होने पर जिम्मेदार कौन होगा। यही स्थिति लगभग पूरे इलाके की है। भाजपा युवा मोर्चा मण्डल अध्यक्ष नटवर लाल शर्मा का कहना है कि निगम अधिकारी कार्रवाई तो कर लेते हैं, लेकिन सुविधा नहीं मिलती है।

Vijay Kumar Joliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned