अंधड़ का तांडव, ओले भी गिरे,जिले में मौसम ने दिखाए तेवर

अंधड़ का तांडव, ओले भी गिरे,जिले में मौसम ने दिखाए तेवर,ग्राम पंचायत नीमोद के बाढ़ बारियारा में परिवार पर कहर ,12 वर्षीय बालिका घायल.पाडा मरा, भैंस जख

By: Abhishek ojha

Published: 16 May 2018, 10:43 AM IST

मलारना डूंगर. उपखण्ड क्षेत्र की ग्राम पंचायत नीमोद में अंधड़ ने मंगलवार शाम तांडव किया। कहीं टीन टप्पर उड़ गए तो कहीं पेड़ व बिजली के खम्भे धाराशायी हो गए। कहीं मकानों की दीवार ढह गई। यहां बाढ़ बरियारा में दीवार के नीचे दबने से एक 12 वर्षीय बालिका गम्भीर घायल हो गई। इस दौरान दो मवेशी भी जख्मी हुए हैं। अंधड़ के बाद उपखण्ड क्षेत्र की बिजली व्यवस्था भी ठप हो गई। मंगलवार शाम अचानक आकाश में बादल छाने के बाद तेज हवाएं चलने लगी। देखते ही देखते हवाओं का वेग बढ़ गया। करीब पन्द्रह मिनट तक आंधी चली। इससे ग्राम पंचायत नीमोद के बाढ़ बरियारा में राधामोहन मीना का टीनशेड उड़ गया।

दीवार गिरने से राधामोहन की 12 वर्षीय पुत्री ज्योति उर्फ मिस्कॉल दीवार के नीचे दब गई। हादसे का पता चलने पर ग्रामीणों ने बालिका को दीवार के नीचे से निकाल कर तत्काल उपचार के लिए जिला मुख्यालय पहुंचाया। जहां ज्योति का एक निजी चिकित्सालय में उपचार शुरू किया गया। उधर टीनशेड के नीचे दबने से एक पाडे की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं दूसरी तरफ पंचायत मुख्यालय नीमोद में आंधी से लोगों के काफी नुकसान हुआ है।

सरपंच प्रहलाद मीना ने बताया कि यहां प्यारे लाल पुत्र मूलचंद मीना, लड्डू लाल पुत्र भौरी लाल मीना के टीनशेड उड़ गए। इसी तरह रामजी लाल पुत्र भोरी लाल मीना के चद्दर उड़ कर भैंस के उपर गिरे। इससे भैंस जख्मी हो गई। हादसे की सूचना पर उपजिला कलक्टर मुकेश कुमार कायथवाल ने पशु चिकित्सा टीम व हलका पटवारी तथा गिरदावर को घटनास्थल के लिए रवाना कर दिया। जहां घायल मवेशियों का तत्काल उपचार किया गया।अंधड़ से उपखण्ड क्षेत्र में दर्जनों पेड़ व बिजली के खम्भे भी गिरे हैं।

अंधड़ के साथ ओले व बारिश : मंगलवार शाम अंधड़ के साथ कहीं हल्की तो कहीं तेज बारिश भी हुई। इस दौरान कई इलाकों में चने के आकार के ओले भी गिरे। यहां उपखण्ड मुख्यालय पर करीब दस मिनट तक मध्यम दर्जे की बारिश हुई। इससे सड़कों पर पानी बह निकला।


गोज्यारी गांव में परिवार के चार जने घायल
भाड़ौती. कस्बे सहित क्षेत्र में ग्राम पंचायत भूखा के गोज्यारी में अंधड़ से मंगलवार शाम एक ही परिवार के चार जने गंभीर घायल हो गए। तीन जनों को गंभीर अवस्था में सवाईमाधोपुर के लिए रैफर किया। कहीं टीन टप्पर उड़ गए, तो कहीं पेड़ धाराशायी हो गए। कहीं मकानों की दीवार ढह गई। यहां गोज्यारी गांव में दीवार के नीचे दबने से चार जने गम्भीर घायल हो गए। मंगलवार शाम अचानक बादल छाने के बाद तेज हवाएं चलने लगी। देखते ही देखते हवाओं का वेग बढ़ गया। करीब आधे घंटे तक आंधी चली। इससे ग्राम पंचायत भूखा के गोज्यारी में हरकेश गुर्जर के टीनशेड उड़ गया तथा दीवार गिरने से हरकेश गुर्जर की पत्नी गीता देवी (45) व हरकेश गुर्जर का पुत्र हरिभजन (22) तथा छोटे भाई बलराम गुर्जर की पुत्री निशा गुर्जर (5) , हनुमान गुर्जर पुत्री अंकिता गुर्जर (9) दीवार के नीचे दब गई।

हादसे का पता चलने पर ग्रामीणों ने चारों को दीवार के नीचे से निकाल कर निजी वाहनों से उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भाड़ौती लेकर आए। इसमें हरिभजन व गीता देवी के अंदरूनी चोट होने के कारण पीएचसी से तीन जनों को सवाईमाधोपुर के लिए रैफर कर दिया गया। वहीं दूसरी तरफ आंधी से लोगों के काफी नुकसान हुआ है। सूचना लगते ही मौके पर पहुंची सरपंच इंदिरा देवी ने बताया कि यहां पीडि़त के परिवार को काफी नुकसान हुआ है। दीवार ढह गई व टीनशेड उड़ गए। इसी प्रकार भारजा नदी में मकान की रेलिंग टूट कर नीचे गिर गई। गुटया मीना के मकान के ऊपर से दो टीनशेड नीचे गिरे। वहीं प्रीतम चन्द के मकान की सीमेंट की जाली टूट कर नीचे गिर गई। वहीं देवपाल मीना के आरसीसी के चार चद्दर उड़कर खेतों में जा गिरे।


अंधड़ के साथ बारिश
कस्बे सहित आसपास के क्षेत्र में मंगलवार शाम अंधड़ के साथ कहीं हल्की तो कहीं तेज बारिश भी हुई। कस्बे में करीब 15 मिनट तक बारिश हुई। इससे सड़कों पर पानी बह निकला।


बारिश होने से मौसम खुशनुमा
पीपलदा. कस्बे सहित क्षेत्र में मंगलवार दोपहर बाद धूलभरी हवा चली। इस दौरान रिमझिम बारिश हुई। यहां सुबह से ही तेज गर्मी रही। इस बीच दोपहर करीब तीन बजे अचानक धूलभरी हवा चली और रिमझिम बारिश शुरू हो गई, जो करीब दस मिनट तक जारी रही।


अंधड़ के साथ ओले गिरे
भगवतगढ़. नींदड़दा ग्राम पंचायत के बनोटा गांव में मंगलवार को गोली के आकार के ओले गिरे। बनोटा निवासी धारासिंह मीना ने बताया कि मंगलवार को अपराह्न करीब तीन से चार बजे के बीच अचानक तेज अंधड़ चलने लगा। इसके कुछ समय बाद ही अंधड़ के साथ गोली के आकार के ओले गिरने शुरू हो गए। तेज अंधड़ के कारण कई लोगों के चारे आदि अंधड़ के साथ उड़ गए। वहीं कई पेड़ धराशाही हो गए।


जिला मुख्यालय पर देर रात बूंदाबांदी
सवाईमाधोपुर. जिला मुख्यालय पर अपराह्न तीन बजे बाद मौसम का मिजाज बदला। हालांकि रात करीब पौने 12 बजे मेघ बरसे। पहले बूंदाबांदी हुई। फिर रिमझिम बरसात हुई। इससे पहले शाम को अचानक बादल छा गए और कुछ देर तेज अंधड़ के साथ बूंदाबांदी हुई। महज पांच मिनट तेज हवा के झौंके के साथ बूंदाबादी हुई। इसके बाद मौसम साफ हो गया। लेकिन गर्मी ने लोगों के पसीने छुड़ा दिए। दिन में लोगों को कूलर-पंखे की हवा से भी राहत नहीं मिली।

तेज धूप व गर्मी ने लोगों को खासा परेशान किया। अपराह्न तीन बजे बाद यकायक मौसम ने पलटा खाया। आसमान में काली घटा छा गई और धूलभरी हवा चलने लगी। शाम को भी गर्म हवा चली। इधर, मौसम विभाग कंट्रोल रूम के अनुसार अगले कुछ दिनों में तेज गर्मी व लू के साथ आंधी चलने की संभावना है। कई जगहों पर हल्की बरसात भी हो सकती है।

Abhishek ojha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned