बाघ ने किया गाय का शिकार, ग्रामीणों में दहशत

कुशलपुरा गांव का मामला

By: Arun verma

Published: 05 Sep 2020, 08:14 PM IST

नायपुर (खण्डार). रणथम्भौर बाघ परियोजना क्षेत्र स्थित गोठ बिहारी ग्राम पंचायत के गांव कुशलपुर के खेतों के पास शनिवार देर शाम बाघ ने आबादी क्षेत्र में एक गाय का शिकार किया। इससे ग्रामीणों में भय व्याप्त है।

ग्रामीण लखन, रामबाबू, समाज सेवक व लड्डूलाल सैनी आदि ने बताया की देर शाम को बाघ रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान से निकलकर कुशलपुर गांव के खेतों के पास आ पहुंचा। जहां पर खेतों के पास चर रही गाय को मौत के घाट उतार दिया। वहीं गाय के रंभाने पर खेतों पर कार्य कर रहे आस-पास के किसान मौके पर पहुंचे।किसानों ने देखा कि बाघ गाय की गर्दन को अपने दांतों में दबाकर गाय को जंगल में ले जाकर बैठ गया था।

ग्रामीणों ने इसकी सूचना गिलाई सागर वन चौकी पर दी पर दी। इस पर वनकर्मी मौके पर पहुंचे और गाय के शिकार के पास बाघ की पहचान के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए। वनकर्मियों ने बताया कि कुशलपुर इटावदा गांव के आस-पास वन क्षेत्र में बाघ टी-65, बाघ टी-3, बाघिन टी-69 एवं बाघिन के दोनों शावक का मूवमेन्ट रहता है।

पिंजरे में कैद हुआ पैंथर
बौंली. उपखंड क्षेत्र के ग्राम मझेवला में दहशत का पर्याय बने पैंथर गत शुक्रवार रात पिंजरे में कैद हो गया। वनकर्मियों ने सुबह पैंथर का रेस्क्यू कर करौली के कैलादेवी अभयारण्य की माशलपुर रेंज में ठीकरा गोशाला के जंगलों में छोड़ दिया। जानकारी के अनुसार मझेवला व आस-पास के गांवों में गत करीब एक सप्ताह से पैंथर का मूवमेंट बना हुआ था।

इस दौरान पैंथर ने पांच से अधिक मवेशियों का शिकार कर लिया था। इससे ग्रामीणों में दहशत थी। सूचना पर रैंजर दशरथ सिंह के नेतृत्व में दो दिन से पैंथर की ट्रेकिंग की जा रही थी। वहीं पकडऩे के लिए खेत में पिंजरा लगाया गया था। शुक्रवार रात करीब ढाई बजे पिंजरे में बंधे शिकार को लपकने के चक्कर में पैंथर पिंजरे में कैद हो गया।

जिला मुख्यालय से आई विशेषज्ञ टीम ने पैंथर को ट्रेंक्युलाइज किया। जिसे बाद में करौली ले जाया गया। इस दौरान लक्ष्मीकांत जैमन, वनपाल भूपेन्द्र सिंह जादौन, केदार शर्मा, मोहन सैन, प्रहलाद सिंह व निवाई वन विभाग दल के शंकरलाल, बद्रीलाल, लड्डूलाल आदि वनकर्मी मौजूद रहे। ग्रामीण नैनूराम, पुखराज, शैतान सिंह, आशाराम व पप्पू आदि ने रेस्क्यू ऑपरेशन में सहयोग किया।

Arun verma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned