हाजिरी में गड़बड़ी पर दो मेटों को हटाया

हाजिरी में गड़बड़ी पर दो मेटों को हटाया

By: Subhash

Updated: 14 Jun 2020, 12:41 PM IST

सवाईमाधोपुर. जिले में मनरेगा कार्यों में मिल रही शिकायतों के बाद शनिवार को रामसिंहपुरा व खिलचीपुर में औचक निरीक्षण किया। इस दौरान हाजिरी में गड़बड़ी पर दो मेटों को हटाने के निर्देश दिए।
जिला कलक्टर नन्नूमल पहाडिया ने रणथंभौर रोड क्षेत्र में चल रहे महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार गारंटी स्कीम (मनरेगा) के कार्यो का औचक निरीक्षण कर व्यवस्थाओं को जांचा। रामसिंहपुरा की तलाई निर्माण के कार्य पर उपस्थित श्रमिकों से अधिक की हाजिरी को गंभीरता से लेते हुए कलक्टर ने नरेगा अधीशासी अभियंता को मौके पर ही कार्यस्थल पर नियुक्त दो मेटों को कार्य से हटाने के निर्देश दिए। यहां मेटों की ओर से नियोजित 114 श्रमिकों में से 87 श्रमिकों की उपस्थिति दिखाई गई थी। इसी प्रकार खिलचीपुर पंचायत के वृक्षकुंज के पास तलाई कार्य का निरीक्षण किया। यहां मेट ने श्रमिकों को हाथ धोने के लिए साबुन उपलब्ध करवाया हुआ था। उन्होंने श्रमिकों को मास्क लगाकर तथा सोशल डिस्टेंसिंग मेन्टेन रखते हुए कार्य करने के निर्देश दिए। इस कार्य स्थल पर 120 में नियोजित श्रमिकों में से 97 श्रमिक उपस्थित मिले। कलक्टर ने दोनों मेटों की मस्टरोल से उपस्थिति स्वयं जांची। इनमें एक मेट की ओर से दशाई 46 उपस्थिति के स्थान पर 28 तथा दूसरे मेट की ओर से 41 श्रमिकों के उपस्थिति के स्थान पर 36 श्रमिक उपस्थित मिले। अनुपस्थित श्रमिक को उपस्थित दर्शाने को गंभीरता से लेते हुए कलक्टर ने तुरंत दोनों मेटों को हटाने के निर्देश दिए।

श्रमिकों से की वार्ता
कलक्टर ने श्रमिकों से वार्ता करते हुए उन्हें मास्क लगाकर कार्य करने, बार-बार साबुन या सैनेटाइजर से हाथ धोने के निदश दिए। कोरोना से जागरूक रहते हुए पूरी सावधानी बरतने तथा सोशल डिस्टेंसिंग की पालना पर जोर दिया। कलक्टर ने कार्य स्थल पर पर्याप्त छाया, पीने के पानी तथा दवाईयों की किट की उपलब्धता कराने के निर्देश दिए। इसी प्रकार पंचायत से श्रमिकों को मास्क उपलब्ध करवाते हुए उन्हें मास्क के उपयोग के लिए जागरूक करने पर जोर दिया।

Subhash Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned