जलदाय विभाग पिला रहा बीमारी ,सहायक अभियंता को सुनाई खरी-खोटी

जलदाय विभाग पिला रहा बीमारी ,सहायक अभियंता को सुनाई खरी-खोटी

By: Abhishek ojha

Published: 10 Feb 2018, 06:20 PM IST

दुर्गंधयुक्त पानी का सेम्पल नहीं लेने पर अड़ा कर्मचारी, लोग हुए आक्रोशित
सवाईमाधोपुर. करीब एक सप्ताह से जिला मुख्यालय स्थित केशवनगर कॉलोनी में जलदाय विभाग लोगों को बीमारी पिला रहा है। हालात यह है कि जलापूर्ति के दौरान क रीब 15 मिनिट तक सीवर का दुर्गंधयुक्त पानी की आपूर्ति हो रही है। इससे घरों व मोहल्ले में रूका नहीं जाता है। उन्होंने जलदाय विभाग के अधिकारियों से लेकर जिला कलक्टर तक से शिकायत की, लेकिन कोई कार्रवाई व सुधार नहीं हो रहा है।

नमूने लेने में खानापूर्ति
कॉलोनी के विमलेश गुप्ता, कृष्णअवतार शर्मा, राकेश मंगल ने बताया कि शुक्रवार सुबह जलापूर्ति के दौरान नलों में करब 15 मिनट तक सीवर का दुर्गंध युक्त पानी की आपूर्ति हुई। इस दौरान नमूने लेने पहुंचे कर्मचारी ने दूषित पानी के नमूने लेने से इंकार कर दिया।

बाद में 15 मिनट बाद साफ पानी आने के बाद नमूने लेने के लिए कहा। इस पर लोगों ने विरोध किया। कर्मचारी ने उपभोक्ताओं से अभद्रता की। साथ ही साफ पानी के नमूने लेने की बात को लेकर अड़ गया। वह गंदे पानी के नमूने नहीं लेगा। लोगों की शिकायत पर सहायक अभियंता जीपी गोयल ने उसे जमकर लताड़ लगाई।

कॉलोनीवासियों में रोष
एक सप्ताह से हो रही दूषित जलापूर्ति को लेकर राजनगर व केशव नगर कॉलोनी के लोगों में रोष है। लोगों द्वारा सहायक अभियंता को शिकायत के बाद एनके द्वारा जांच करने की कहने पर लोग आक्रोशित हो गए। उन्होंने एईएन को जमकर खरी-खोटी सुनाई।

उन्होंने कहा विभाग को एक सप्ताह के बाद भी अभी तक लीकेज नहीं मिला। इससे बड़ी बिडम्बना क्या होगी। तब तक लोग मर जाएंगे। इस पर लोग एकजुट होकर जिला कलक्टर के पास जाने लगे, लेकिन एईएन ने लोगों को समझाइश कर वहां जाने से रोका। तथा शीघ्र ही समस्या का निराकरण का आश्वासन दिया।

ये बोले कॉलोनीवासी
जलदाय विभाग की ओर से रविवार तक जलापूर्ति में सुधार नहीं हुआ तो केशवनगर के लोगों द्वारा कोटा-लालसोट मेगा हाईवे पर नीलकण्ठ महादेव के समीप रोड जाम किया जाएगा।
एलपी विजय, केशव नगर कॉलोनी

कॉलोनी में दूषित जलापूर्ति को दुरस्त करने के लिए जलदाय विभाग के अधिकारी गंभीर नहीं है। इस संबंध में उन्हें कई बार अवगत कराने के बाद भी वे लीकेज तलाशने का प्रयास नहीं कर रहे हैं। धरातल पर काम नहीं कर बाते ही करते है।

महेश चंद गुप्ता, केशवनगर कॉलोनी
जलापूर्ति के दौरान शुरूआत में ही नमूने लेने के लिए पाबंद करें। ताकि स्थिति का पता चल सके। साफ पानी के नमूने लेकर वे उच्चधिकारियों को गुमराह कर रहे हैं।
लक्ष्मीकांत मंगल, केशवनगर कॉलोनी

एक दो दिन में दूषित जलापूर्ति में सुधार नहीं हुआ तो केशव नगर विकास समिति की बैठक बुलाकर आगामी रणनीति तय की जाएगी। दूषित जलापूर्ति को दुरस्त करने के लिए जलदाय विभाग गंभीर नहीं है। वे इस मामले में चुप्पी साधे हुए है।
गोविंद गोयल, अध्यक्ष केशव नगर विकास समिति।

लीकेजों की कर रहे तलाश
दूषित पानी के नमूने लेने के लिए कर्मचरी को पाबंद कर दिया है। जलापूर्ति को दुरस्त करने के लिए लीकेज तलाश रहे हैं। -जीपी गोयल, सहायक अभियंता जलदाय विभाग सवाईमाधोपुर।

Abhishek ojha
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned