सवाईमाधोपुर व गंगापुरसिटी में महिला एवं बाल विकास विभाग में फर्नीचर खरीद में घोटाला, भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो टीम की कार्रवाई...

Shubham Mittal

Publish: Jan, 13 2018 06:54:06 (IST) | Updated: Jan, 13 2018 06:54:07 (IST)

Sawai Madhopur, Rajasthan, India
सवाईमाधोपुर व गंगापुरसिटी में महिला एवं बाल विकास विभाग में फर्नीचर खरीद में घोटाला, भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो टीम की कार्रवाई...

वाईमाधोपुर व गंगापुरसिटी स्थित महिला एवं बाल विकास विभाग कार्यालयों पर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो टीम ने कार्रवाई की।

सवाईमाधोपुर. सवाईमाधोपुर व गंगापुरसिटी स्थित महिला एवं बाल विकास विभाग कार्यालयों की ओर से जयपुर स्थित एक फर्म से खरीदे गए फर्नीचरों के घोटाले के मामले में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो टीम ने दूसरे दिन शुक्रवार को भी कार्रवाई की। ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सहीराम विश्नोई ने बताया कि सवाईमाधोपुर व गंगापुरसिटी शहरी एवं ग्रामीण महिला एवं बाल विकास विभाग ने राजसीको के माध्यम से जयपुर स्थित फर्म मै. कल्याण स्टील इंडस्ट्री एच 1, 21 बी रोको इंडस्ट्री एरिया कूकस जयपुर से फर्नीचर्स की खरीद की थी। इसकी जांच के लिए टीम का गठन किया।

जांच के दौरान फर्नीचर्स निर्धारित मापदंड के अनुसार नहीं पाए गए। सवाईमाधोपुर महिला एवं बाल विकास विभाग ने फर्म से 15 स्टील की कुर्सियां, 15 छोटी अलमारियां व स्टील टेबल मय टॉप के 15 नग खरीदे थे। निदेशक बाल विकास विभाग जयपुर ने राजसीको जयपुर को आईसीडीएस के विभिन्न कार्यालयों में स्टील फर्नीचर की सप्लाई करने के आदेश जारी किए थे। इसी क्रम में राजसीको की ओर से टेंडरिंग प्रक्रिया के माध्यम से संबंधित फर्म से वर्क ऑर्डर जारी किया गया। टीम ने सवाईमाधोपुर महिला एवं बाल विकास विभाग की सीडीपीओ गरिमा शर्मा की मौजूदगी में फनीचर्स की जांच की।

वहीं गंगापुरसिटी ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में भी सीडीपीओ सत्यप्रकाश शुक्ला की मौजूदगी में फर्नीचर्स की जांच की। इन कार्यालयों की ओर से भी 15-15 नग स्टील की कुर्सियां, छोटी अलमारियां व स्टील टेबल मय टॉप खरीदे गए थे। जांच में ये सभी निर्धारित मापदंड के अनुसार नहीं पाए गए। इनके वजन, गेज आदि में अनियमितताएं व घोटाला पाया गया। टीम में सरकारी आईटीआई के दो एक्सपर्ट और पॉलीटेक्निक कॉलेज के दो विशेषज्ञ भी शामिल थे। ब्यूरो की टीम ने इनके सैंपल लेकर इनके कार्यालय के एक कमरे में अग्रिम कार्रवाई के लिए सील कर दिए। टीम में सुनील कुमार शर्मा, साहिब सिंह एवं अन्य सदस्य मौजूद थे।

आरोपितों का साथ नहीं देने का किया निर्णय
भाड़ौती. गंभीरा में शुक्रवार को ठाकुरजी मंदिर पर पंच पटेलों व ग्रामीण स्तर पर बैठक हुई। इसमें जिला परिषद सदस्य की मौत को लेकर गंभीरा के पंच पटेलों ने मुद्दा उठाया। ग्रामीणों ने मृतक के परिजनों को दोबारा धमकियां ना मिले इसको लेकर पंच पटेलों व सभी ग्रामवासियों ने आरोपितों का साथ नहीं देने का निर्णय किया। इस दौरान रामजी लाल पटेल, रामअवतार पटेल रामधन पटेल, घनश्याम मीणा, पूर्व सरपंच गणपत लाल मीणा आदि मौजूद रहे। मृतक के परिजनों को अब भी फोन पर अनजान नंबरों से धमकियां मिल रही। इसके बारे में भी चर्चा की गई। सभी ग्रामीणों ने मिलकर पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन देने का निर्णय किया।


कनेक्शन कटने के बावजूद कर रहे हैं बिजली का उपभोग
बामनवास. बिजली कनेक्शन कटने के बाद भी बिजली का उपभोग करते पाए जाने पर निगम की ओर से क्षेत्र के चार गांवों के करीब दस उपभोक्ताओं पर 1.24 लाख रुपए का जुर्माना तय किया गया। नोटिस मिलते ही सात दिवस के भीतर इनको जुर्माना राशि जमा करानी होगी। राशि जमा नहीं कराने की स्थिति में इनके खिलाफ बिजली चोरी अधिनियम के तहत विद्युत पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। निगम की ओर से उपखण्ड क्षेत्र में सघन वसूली अभियान चलाया हुआ है। शुक्रवार को निगम के कनिष्ठ अभियंता पुखराज मीना के नेतृत्व में एक टीम द्वारा नावंड, गुडला, जाहिरा एवं गुर्जर कोलेता गांवों में ऐसे कनेक्शनों की जांच की थी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned