फिर आया समर कैम्प का मौसम

फिर आया समर कैम्प का मौसम
summer camp

Divya Singhal | Publish: May, 18 2015 02:14:00 PM (IST) स्कूल लाईफ

देश में समर कैम्प की ऎसी कई लोकेशंस हैं, जहां एडवेंचर का मजा भी लिया जा सकता है

एक बार फिर समर कैम्प का मौसम आ गया है। ज्यादातर स्कूलों में छुटि्टयां शुरू हो गई हैं और बच्चे इन छुटि्टयों में कुछ नया सीखने की प्लानिंग बना रहे हैं। तो क्यों ना इस सीजन में कुछ खास किया जाए। इन दिनों इंडिया में आउटिंग समर कैम्प का कॉन्सेप्ट तेजी से लोकप्रिय हो रहा है। इसके तहत बच्चा न सिर्फ नई जगह को एंजॉय करता है, बल्कि बहुत कुछ सीखता भी है।

बच्चों की रूचि को देखते हुए बहुत-से समर कैम्प इवेंट ऑर्गनाइजेशंस ने इस बार भी नए-नए प्रोग्राम लॉन्च किए हैं, जिनके जरिए छुटि्टयों को भरपूर एंजॉय किया जा सकता है। देश में समर कैम्प की ऎसी कई लोकेशंस हैं, जहां एडवेंचर का मजा भी लिया जा सकता है। देशभर के बहुत-से समर कैम्प इवेंट ऑपरेटर्स नौ से 19 साल आयुवर्ग के स्टूडेंट्स के लिए आउटिंग समर कैम्प ऑर्गनाइज करवाते हैं।

वॉटर फॉल का एंजॉयमेंट
हिमाचलप्रदेश के धर्मशाला ड्रिस्टिक्ट को समर कैम्प के लिए काफी पसंद किया जाता है। टूरिस्ट डेस्टिनेशन के हिसाब से यह जगह काफी एंजॉयेबल है। यहां के वॉटर फाल और मंदिर, सभी को अट्रैक्ट करते हैं। दूसरी ओर, यहां की सोरिंग ईगल पीक्स प्लेस पर कैम्प लगाया जाता है, जिसे बच्चे काफी एंजॉय करते हैं।

रीवर के किनारे कैम्प

उत्तराखंड के टोंस रीवर के किनारे भी समर कैम्प लगाए जाते हैं। यह स्थान देहरादून से 180 किमी. दूर है। यहां पर कैम्प एक्टिविटीज के लिए प्रॉपर स्पेस है। यही नहीं, स्टूडे ंट्स वॉटर गेम्स को भी एंजॉय कर सकते हैं। कैम्प के दौरान उनकी सेफ्टी पर भी पूरा ध्यान जा रहा है।

यहां क्लाइम्बिंग का मजा

शिमला की तहसील जुंगा समर कैम्प के उपयुक्त जगह मानी जाती है। समर में यहां का ट्रेम्प्रेचर भी सही रहता है। लिहाजा यहां हर साल समर कैम्प लगाए जाते हैं। इनमें बच्चे वॉटर स्पोट्र्स से लेकर नैचरल क्लाइम्बिंग का लुत्फ उठाते हैं। यहां पर क्लाइम्बिंग और रीवर रॉफ्टिंग का कम्प्लीट मजा लिया जा सकता है। यहां के ट्री काफी अटै्रक्टिव हैं।

हरियाली और पहाड़ों के बीच कैम्प
रानीखेत के पास स्थित उरोली और सितलाखेत भी समर कैम्प के लिए परफेक्ट प्लेस हैं। हरियाली और पहाड़ों के बीच बच्चे काफी एंजॉय करते हैं। एक्सपर्ट की मानें, तो इन जगहों की पॉजिटिव एनर्जी से स्टूडेंट्स में आत्मविश्वास डवलप होता है। यहां हर साल हजारों की संख्या में बच्चे और यंगस्टर्स कैम्प के लिए आते हैं।

बेस कैम्प के लिए परफेक्ट
देहरादून (उत्तराखंड) से 98 किलोमीटर दूर चकराता भी बेस कैम्प के लिए शानदार जगह है। यहां टीनेजर्स के लिए ज्यादा कैम्प लगाए जाते हैं। यह जगह टै्रकिंग के लिए बिलकुल उपयुक्त है। इसीलिए यहां यूथ काफी एंजॉय करता है। वर्तमान में यहां सेना के जवानों को ट्रेनिंग दी जाती है।

इन जगहों का भी जवाब नहीं
इनके अलावा कुर्ग, यॉरकोड, नैनिताल, ऋषिकेश, मनाली और शिमला भी एंजॉयमेंट के हिसाब से उपयुक्त माने जाते हैं।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned