अध्ययन: एक गिलास जूस और सोडा एक दिन में कैंसर के खतरे को बढ़ा देता है, जानें कैसे

अध्ययन: एक गिलास जूस और सोडा एक दिन में कैंसर के खतरे को बढ़ा देता है, जानें कैसे

Prakash Chand Joshi | Publish: Jul, 11 2019 04:07:33 PM (IST) विज्ञान और तकनीक

  • मीठा खाने से बढ़ता है शरीर का मोटापा
  • अध्ययन के बारे में जानकर हर कोई हैरान

नई दिल्ली: आज के दौर में हर कोई अपने स्वास्थ्य ( Health ) पर ध्यान देता है, लेकिन फिर भी बीमारियां इंसान का पीछा नहीं छोड़ती। इन्हीं बीमारियों में से एक खतरनाक बीमारी है कैंसर ( cancer )। हाल ही में कैंसर को लेकर एक अध्ययन सामने आया है। इस अध्ययन में पाया गया कि एक छोटा गिलास जूस या फिर एक गिलास सोडा कैंसर जैसी घातक बीमारी को बढ़ाता है। ऐसे में ये अध्ययन काफी चौंकाने वाला है। चलिए विस्तार से जानते हैं इस अध्ययन के बारे में।

sceince

दरअअसल, एक नए अध्ययन में पाया गया कि प्रति दिन सिर्फ एक छोटा गिलास जूस या फिर सोडा ( soda ) पीने से ये कैंसर की बीमारी को बढ़ाता है। 100 मिलीलीटर सोडा के एक विशिष्ट कैन का लगभग एक तिहाई भाग कैंसर जोखिम में 18% की वृद्धि और स्तन कैंसर में 22% की वृद्धि करता है। शोध में शामिल किए गए क्वाड्राम इंस्टीट्यूट बायोसाइंस के पोषण शोधकर्ता और इमरान के साथी इयान जॉनसन ने कहा, "परिणाम चीनी-मीठे पेय के उपभोग और संयुक्त रूप से स्तन कैंसर के जोखिम के बीच सांख्यिकीय रूप से महत्वपूर्ण संकेत देते हैं।'

sceince

जॉनसन के मुताबिक, "शायद ये आश्चर्य की बात है कि शुगर ( sugar ) ड्रिंक्स का उपयोग करने वाले लोगों और शुद्ध फलों के जूस को पीने वाले लोगों में भी में कैंसर के बढ़ते हुए खतरे को देखा गया।" साथ ही मेडिकल जर्नल बीएमजे में बुधवार को प्रकाशित अध्ययन के प्रमुख लेखक मैथिल्डे तौवियर ने कहा कि शोध से ये पता चला है कि हम जो मीठा पेय पीते हैं उसे कम करना हमारे स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होगा। उन्होंने कहा हमने जो देखा वो ये था कि इसका मुख्य चालक वास्तव में इन पेय में निहित चीनी है," मीठे पदार्थ वजन और मोटापा बढ़ाते हैं और ये कैंसर के लिए एक जोखिम कारक है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned