वैज्ञानिकों का दावा, बिना किसी पीड़ित के सर्पक में आए भी फैल सकता है कोरोनावायरस!

  • चीन के वुहान से निकला कोरोना वायरस (Coronavirus) 140 से अधिक देशों में फैल चुका है
  • कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से 6500 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (Coronavirus) दहशत का दूसरा नाम बन चुक है। चीन के वुहान से निकला कोरोना अबतक 140 से अधिक देशों में फैल चुका है। लाखों लोग इस वायरस के संक्रमण से ग्रसित हैं। वहीं 6500 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। लोगों में इस वायरस को लेकर डर का माहौल बना हुआ है। वायरस के संक्रमण से बचने लिए सरकारें लगातार प्रयास कर रही है। WHO ने तो कोरोना को महामारी घोषित कर दिया है।

Air pollution: जो काम सरकारें सालों में ना कर सकी, कोरोना वायरस ने उसे कुछ ही दिनों में कर दिया

कोरोना वायरस (Coronavirus) को बारे में कई तरह के दावें भी किए जा रहे हैं। अब तक कहा जा रहा था ये वायरस ज्यादातर एक-दूसरे के संपर्क में आने से फैलता है इसलिए लोगों को आपस में करीब 6 फुट (1.8 मीटर) तक की दूरी बनाए रखनी चाहिए। लेकिन हाल ही में आई एक रिसर्च में बताया गया है कि ये हवा में भी लोगों को प्रभावित कर सकता है।

अमेरिका की National Institute of Allergy and Infectious Diseases ने एक रिसर्च किया था। जिसमें पता चला कि कोरोना वायरस हवा में भी घंटों तक जीवित रह सकता है और इंसानों को अपना शिकार बना सकता हैं।

कोरोनावायरस से लड़ने के लिए यहां के लोग रात 8 बजे बजाने लगते हैं अपने घरों के बर्तन, वजह कर देगी हैरान

शोधकर्ताओं ने बताया उन्होंने कोरोना वायरस (Coronavirus) की कॉपी वाले एरोसोल का हवा में छिड़काव किया। जिससे पता चला कि ये माइक्रोस्कोपिक ड्रॉपलेट्स हवा में लगभग 3 घंटे अपना असर दिखाते हैं। ऐसे में कोरोना वायरस और खतरनाक साबित हो सकता है।

कोरोना वायरस से बचने के लिए शख्स ने पी ली शराब, पकड़े जाने पर पुलिस ने किया बुरा हाल

बता दें कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर The New England Journal of Medicine में एक रिपोर्ट भी छपी है। जिसमें इस वायरस को बारे में कई बाते कही गई है। रिपोर्ट के अनुसार कोरोना प्लास्टिक और स्टील के सरफेस पर तीन दिन से ज्यादा जिंदा रह सकता है। कागज पर कोरोना वायरस 24 घंटे से ज्यादा देर तक एक्टिव नहीं रह सकता है। कोरोना का असर सबसे कम तांबे पर देखनो मिला।तांबे से बनी चीजों पर कोरोना वायरस 4 घंटे के अंदर निष्क्रिय हो जाते हैं।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned