शी लीड्स: यह भारतीय महिला वैज्ञानिक करेगी अमरीकी कोरोना वैक्सीन 'फाइजर' का भविष्य तय

भारतीय मूल की वैज्ञानिक प्रभा आत्रेय ने हाल ही साइंस कोर्ट के जरिए अमरीका में कोरोना वैक्सीन के अप्रूवल की कार्यवाही शुरू कर दी है, इनकी अनुमति बिना अमरीका में नहीं दी जा सकेगी कोरोना की कोई वैक्सीन। शिकागो मेडिकल स्कूल की डीन अर्चना चटर्जी भी इस कमेटी में शामिल हैं।

By: Mohmad Imran

Published: 12 Dec 2020, 04:48 PM IST

कोरोना महामारी (corona pandemic) से सबसे ज्यादा त्रस्त अमरीका में वैक्सीन (covid-19 vaccine) बनाने पर कोम जोर-शोर से चल रहा है। लेकिन किसी वैक्सीन को हरी झंडी मिलेगी इसका फैसला एक भारतीय करेगी। जीहां, भारतीय मूल (Indian origin) की वैज्ञानिक, वैक्सीन और संबंधित जैविक उत्पाद सलाहकार समिति की कार्यकारी नामित संघीय अधिकारी प्रभा आत्रेय के हाथ में अमरीका में विकसित हो रहीं सभी कोरोना वैक्सीन का भविष्य है। उनके अलावा वैक्सीन को मंजूरी देने के लिए बनी साइंस कोर्ट की कमेटी में शिकागो मेडिकल स्कूल की डीन (chicago medical school) अर्चना चटर्जी भी शामिल हैं। 10 दिसंबर को ऐतिहासिक 'विज्ञान न्यायालय' (science court) के जरिए अमरीकी नियामकों और स्वतंत्र विशेषज्ञों की एक उच्चस्तरीय टीम के रूप में उन्होंने वैक्सीन की जांच-पड़ताल की शुरूआत की। इस दौड़ में वहां सबसे आगे चल रही फाइजर कंपनी (Pfizer's vaccine) की वैक्सीन के लिए आपातकालीन उपयोग को मंजूरी देने पर बहस भी हुई। गौरतलब है कि आत्रेय वीआरबीपीएसी (Vaccines and Related Biological Products Advisory Committee) की कार्यवाहक नामित संघीय अधिकारी के रूप में अमरीकी जनता को कोरोना महामारी वैक्सीन उपलब्ण्ध कराने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी अब इनके कंधों पर है।

शी लीड्स: यह भारतीय महिला वैज्ञानिक करेगी अमरीका में कोरोना वैक्सीन 'फाइजर' भविष्य

यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन में 10 साल अधिकारी रह चुकीं प्रभा इस नियुक्ति से पहले नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ में भी काम किया है। यहां उन्होंने देश में चल रहे वैज्ञानिक कार्यक्रमों की वैज्ञानिक समीक्षा करने वाले कार्यालय का नेतृत्व किया। जैव रसायन विज्ञान, बायोफिजिक्स और आण्विक जीव विज्ञान में पीएचडी प्रभा भारतीय वैज्ञानिकों और चिकित्सकों की उस लंबी सूची में शामिल हैं, जिन्होंने भारतीय अमरीकी के रूप में कोरोना जैसी महामारी के बीच अमरीका की बागडोर संभालने वालों का प्रतिनिधित्व किया है। वैक्सीन मामले में यूएस एफडीए भी प्रभा की टीम की ही अनुमति का इंतजार कर रहे हैं।

शी लीड्स: यह भारतीय महिला वैज्ञानिक करेगी अमरीका में कोरोना वैक्सीन 'फाइजर' भविष्य
Mohmad Imran
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned