2040 तक पृथ्वी पर 20 खरब टन होगा हमारी बनाई हुई चीजों का भार

हर 20 साल में पृथ्वी पर मानव द्वारा निर्मित चीजों का भार दोगुना हो रहा है। मौजूदा समय में कंक्रीट, स्टील, डामर और प्लास्टिक जैसी वस्तुओं का द्रव्यमान अब पृथ्वी पर मौजूद सभी जीवित प्राणियों के द्रव्यमान के बराबर हो गया है। 20वीं सदी के आरंभ में यह भार दुनिया के बायोमास का 3 फीसदी था।

By: Mohmad Imran

Published: 31 Dec 2020, 07:09 PM IST

20 खरब टन जितना भार
इजरायल के रेहोवोट इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस के अध्ययन से पता चला है कि यह भार अगले 20 सालों में दो टेरा टन यानी 20 खरब टन तक पहुंच सकता है। 2040 तक यह पृथ्वी पर मौजूद सभी जीवित चीजों के द्रव्यमान का दोगुना हो जाएगा।

2040 तक पृथ्वी पर 20 खरब टन होगा हमारी बनाई हुई चीजों का भार

इस परिदृश्य में, आज का मानव द्रव्यमान 2040 तक दोगुना हो जाएगा, और उसके बाद हर 20 साल में दोगुना हो जाएगा। एक मोटी गणना दूर के भविष्य के लिए निम्नलिखित प्रक्षेपण प्रदान करता है। वर्ष 2510 के आसपास, मानवजन्य द्रव्यमान लगभग 2.5 x 10 ^ 22 किलोग्राम तक पहुंच जाएगा। यह पृथ्वी की पपड़ी के अनुमानित द्रव्यमान के बराबर है। तो शायद तब तक, मानवता या हमारे वंशजों ने हमारे ग्रह की बाहरी परत के एक बड़े हिस्से को अपने स्वयं के वैज्ञानिक या तकनीकी उपयोगों के लिए बदल दिया होगा। इसमें एक काल्पनिक सामग्री शामिल हो सकती है जिसे कॉम्पोट्रोनियम के रूप में जाना जाता है जो चट्टानों को स्मार्ट, बुद्धिमान पदार्थ में बदल देता है।

2040 तक पृथ्वी पर 20 खरब टन होगा हमारी बनाई हुई चीजों का भार
Mohmad Imran
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned