सुर्खियों में: भारत की एक और बेटी आज भरेगी अंतरिक्ष में उड़ान, करेंगी शोध

बांदला वर्तमान में अमरीकन एस्ट्रॉनॉटिकल सोसायटी, फ्यूचर स्पेस लीडर्स फाउंडेशन के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर के रूप में सक्रिय हैं।

By: Mohmad Imran

Published: 11 Jul 2021, 11:41 AM IST

अमरीका की फ्लोरिडा यूनिवर्सिटी के सहयोग से भारतीय मूल की सिरीषा बांदला आज एक विशेष शोध के लिए वर्जिन गैलेक्टिक्स के 'यूनिटी 22' स्पेसशिप में अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरेंगी। वर्जिन गैलेक्टिक्स में सरकारी मामलात और अनुसंधान विभाग की वाइस-प्रेसिडेंट सिरीषा इस टेस्ट फ्लासइट में मिशन स्पेशलिस्ट के तौर पर कंपनी के मालिक रिचर्ड ब्रेसनन के साथ जाएंगी। यह पहली बार है जब कोई भारतीय महिला अंतरिक्ष में किसी वैज्ञानिक शोध के लिए मिशन स्पेशलिस्ट के रूप में शामिल की गई है।

सुर्खियों में: आंध्रा की बेटी आज भरेगी अंतरिक्ष में उड़ान, करेंगी शोध

मूल रूप से आंध्र प्रदेश की रहने वाली सिरीषा यात्रा के दौरान वैज्ञानिक अनुसंधन का मूल्यांकन करेंगी। इस परीक्षण के दौरान वे अपने साथ कई फिक्सेशन ट्यूब लेकर जाएंगी जो यात्रा के दौरान विभिन्न बिंदुओं पर सक्रिय हो जाएंगे। वर्जिन गैलेक्टिक्स की ओर से पहली बार उड़ान का सीधा प्रसारण आधिकारिक वेबसाइट Virgin Galactic.com और कंपनी के ट्विटर, यूट्यूब और फेसबुक चैनल पर किया जाएगा। सीधा प्रसारण अमरीकी समय के अनुसार सुबह 7 बजे से 9 बजे के बीच किया जाएगा।

सुर्खियों में: आंध्रा की बेटी आज भरेगी अंतरिक्ष में उड़ान, करेंगी शोध

'कमी' भी न रोक सकी राह
महज 4 साल की उम्र से आसमान में उडऩे का ख्वाब बुनने वाली सिरीषा ने नासा ज्वॉइन करने के लिए अप्लाई किया था। लेकिन दृष्टि दोष होने के कारण उन्हें रिजेक्ट कर दिया गया था। बावजूद इसके उन्होंने एयरोनॉटिक्स इंजीनियरिंग में उच्च शिक्षा ली और अलग-अलग क्षेत्रों में काम करने के बाद आज अपने सपने को पूरा करने जा रही हैं। उन्होंने अमरीका के एडवांस्ड एयरक्राफ्ट एल-3 के कम्युनिकेशन सिस्टम को भी डिजाइन किया है। कल्पना चावला और सुनीता विलियम्स के बाद वे तीसरी भारतीय महिला हैं जो अंतरिक्ष तक उड़ान भरेंगी। बांदला वर्तमान में अमरीकन एस्ट्रॉनॉटिकल सोसायटी, फ्यूचर स्पेस लीडर्स फाउंडेशन के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर के रूप में सक्रिय हैं।

सुर्खियों में: आंध्रा की बेटी आज भरेगी अंतरिक्ष में उड़ान, करेंगी शोध

यूट्यूब चैनल से दूसरों को दिखा रही राह
इतना ही नहीं, गुंटूर जैसे दक्षिण भारत के छोटे से जिले से निकलकर आसमान छूने का सपना पालने वाली अपने जैसी लड़कियों की राह आसान करने के लिए सिरीषा अपने यूट्यूब चैनल 'लैसंस फ्रॉम बंदला सिरीषा' के जरिए नासा, स्पेस इंडस्ट्री, इससे जुड़ी शुरुआती स्कूली शिक्षा, ट्रेनिंग, सकॉलरशिप, ट्यूटोरियल क्लास और गाइडेंस भी देती हैं।

सुर्खियों में: आंध्रा की बेटी आज भरेगी अंतरिक्ष में उड़ान, करेंगी शोध
Mohmad Imran
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned