52 साल में पहली बार ये अमरीकी कैप्टन रखेंगे चांद की धरती पर कदम

स्कॉट टिंगल अमरीकी नौसेना में कैप्टन हैं और नासा के अगले चंद्र मिशन आर्टेमिस में उनका जाना लगभग तय हो चुका है

By: Mohmad Imran

Published: 03 Jan 2021, 06:23 PM IST

अमरीकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA) ने अंतिम बार 14 दिसंबर, 11972 को चांद की जमीन पर कदम रखा था। उसके बाद नासा कभी चांद पर वापस नहीं लौटा। 2024 में नासा अपने आर्टेमिस मिशन (Artemis Lunar Mission) के साथ 52 साल बाद एक बार फिर चांद की धरती पर उतरने की तैयारी में है। इस मिशन पर अमरीकी नौसेना (US Navy Captain) के कैप्टेन के स्कॉट टिंगल को हाल ही में नासा आर्टेमिस टीम के सदस्य के रूप में चुना गया है। उम्मीद की जा रही है कि पांच दशक बाद वे पहले अमरीकी होंगे जो चंद्रमा पर उतर सकते हैं।

52  साल में पहली बार ये अमरीकी कैप्टन रखेंगे चांद की धरती पर कदम

कौन हैं कैप्टन स्कॉट टिंगल
ब्लू हिल्स रीजनल टेक्निकल स्कूल से ग्रेजुएट स्कॉट टिंगल ने 1983 में स्नातक किया। 1988 में दक्षिण-पूर्व मैसाचुसेट्स विश्वविद्यालय से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की उपाधि प्राप्त की और इंडियाना के पड्र्यू विश्वविद्यालय से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में मास्टर ऑफ साइंस की डिग्री हासिल की है। 1991 में वे अमरीकी नौसेना में शामिल हो गए। उन्होंने 4 हजार से अधिक घंटे के लिए 48 अलग-अलग हवाई जहाजों में उड़ान भरी है।

52  साल में पहली बार ये अमरीकी कैप्टन रखेंगे चांद की धरती पर कदम

3500 आवेदकों में से चुने गए
स्कॉट ने 3500 से अधिक आवेदकों के साथ 20वें नासा अंतरिक्ष यात्री वर्ग के लिए आवेदन करने का फैसला किया। जुलाई 2009 में उन्हें नौ सदस्यों वाले एक प्रशिक्षण समूह के लिए चुन लिया गया। हाल ही उन्हें 18 अंतरिक्ष यात्रियों की टीम में शामिल किया गया है, जो आर्टेमिस मिशन 2024 में चंद्रमा पर जाएंगे। आर्टेमिस मिशन का उद्देश्य 2024 तक दुनिया की पहली महिला और चंद्रमा पर दूसरे आदमी को उतारना है। साथ ही चांद की सतह पर एक स्थायी अन्वेषण स्थापित करना है। इस शोध का उपयोग नासा भविष्य में अपने मंगल ग्रह की मिशन की तैयारी में अनुसंधान डेटा के रूप में उपयोग कर सकते हैं।

52  साल में पहली बार ये अमरीकी कैप्टन रखेंगे चांद की धरती पर कदम

पुराना अनुभव है स्पेस का
टिंगल ने अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन में 17 दिसंबर, 2017 और 3 जून, 2018 के बीच यूएस ऑपरेशनल सेगमेंट लीड और फ्लाइट इंजीनियर फॉर एक्सपेडिशन 54/55 के रूप में काम किया। आईएसएस में 168 दिन बिताने के बाद, टिंगल पृथ्वी पर लौट आए। उनके परिवार में पत्नी रनेट्टे महलोना और तीन बच्चे हैं।

Mohmad Imran
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned