scriptMoon can Move From orbit If yes then know how? | अपनी जगह से आगे बढ़ सकता है चांद! अगर हां, तो जानिए कैसे? | Patrika News

अपनी जगह से आगे बढ़ सकता है चांद! अगर हां, तो जानिए कैसे?

हमारा चांद ठोस, पथरीला है, जिसके चारों ओर एक बेहद पतली गैसों की परत है। इसे एक्सोस्फेयर कहते हैं। यह धरती के साथ करीब 450 करोड़ साल पहले ही बना था। तब से यह धरती की गुरुत्वाकर्षण वाली क्षेत्र में इसके चारों तरफ चक्कर लगा रहा है।

नई दिल्ली

Published: February 08, 2022 12:42:30 pm

हाल में लायंसगेट पर एक फिल्म आई थी, जिसका नाम मूनफॉल है। इस फिल्म में दिखाया गया है कि किसी रहस्यमयी ताकत के चलते चांद अपनी कक्षा से निकलकर धरती की ओर बढ़ रहा है। ऐसे में धरती को चांद की चक्कर से बचाने की जद्दो जहद शुरू हो जाती है। वैसे तो ये फिल्म थी , लेकिन क्या सच में चांद अपनी जगह से आगे बढ़ सकता है या धकेला जा सकता है अगर ऐसा होता तो क्या होगा। अगर सच में चांद धरती की तरफ आता है, या फिर दूर जाता है तो उससे क्या होगा? दरअसल हमारा चांद ठोस, पथरीला है। इसके चारों ओर बेहद पतली गैसों की परत है, जिसे एक्सोस्फेयर कहते हैं। यह धरती के साथ करीब 450 करोड़ साल पहले ही बना था। तब से यह धरती की गुरुत्वाकर्षण वाली क्षेत्र में इसके चारों तरफ चक्कर लगा रहा है।

यह इकलौती परिभाषा या हाइपोथिसिस है जो यह बताती है कि पूरी दुनिया में मान्य है। वहीं अमरीकी स्पेस एजेंसी नासा की मानें तो पृथ्वी के बनते समय उससे एक प्रोटोप्लैनेट टकराया, इसका नाम था थीया। इसी टक्कर से चांद अलग होकर धरती के पास रहने लगा।

यह भी पढ़ें

अंतरिक्ष के कब्रिस्तान 'पॉइंट निमो' में दफन होगा नासा का इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन, जानिए क्या है वजह

इसके अलावा एक और थ्योरी यह भी है कि, धरती और चांद का निर्माण दो अन्य अंतरिक्षीय वस्तुओं के टकराने से हुआ था। नासा के मुताबिक चांद धरती से करीब 3.85 लाख किलोमीटर दूर स्थित है। चांद का वजन करीब 7.35 करोड़ मीट्रिक टन है। यानी धरती के आकार का एक चौथाई।

कैलिफोर्निया के पासाडेना स्थित नासा के जेट प्रोपल्शन लेबोरेटरी में सेंटर फॉर नीयर अर्थ ऑबजेक्ट स्टडीज ( CNEOS ) के मैनेजर पॉल चोडस के मुताबिक चांद पर गड्ढों के बनने के दौरान हजारों एस्टेरॉयड्स टकरा रहे थे। हर टक्कर के बाद सौर मंडल में चांद की तरफ कचरा निकल रहा था, हालांकि ये कचरा मंगल और बृहस्पति ग्रह के बीच की एस्टेरॉयड बेल्ट में चला गया। अब धरती और चांद पर एस्टेरॉयड्स और उल्कापिंडों की टक्कर कम होती है।
Moon can Move From orbit If yes then know how?
Moon can Move From orbit If yes then know how?
CNEOS का काम है धरती का आसपास घूमने, आने-जाने वाले एस्टेरॉयड्स और धूमकेतुओं पर नजर रखना। यह संस्था यह तय करती है कि धरती को किन एस्टेरॉयड या धूमकेतु से खतरा है।

धरती ने नहीं टकराएगा चांद


पॉल चोडस ने कहा कि इन नीयर अर्थ ऑब्जेक्टस की टक्कर का पूरा अंदाजा लगाया जाता है, लेकिन वैज्ञानिकों को पूरा अनुमान है कि चांद कभी भी धरती के साथ टकराएगा नहीं। इसके साथ ही उन्हें ये भी अनुमान है कि चांद ऑर्बिट से बाहर नहीं निकलेगा।

पॉल के मुताबिक यह टक्कर इसलिए भी नहीं हो सकती क्योंकि धरती की गुरुत्वाकर्षण शक्ति काफी ज्यादा है। अगर सिर्फ खिंचाव ही होता तो चांद न जाने कबका टकरा जाता। उन्होंने कहा कि, चांद को हिलाने के लिए चांद के आकार का एस्टेरॉयड पहले उससे टकराएगा, तभी चांद अपनी जगह से हिल पाएगा, फिलहाल ऐसा होना मुमकिन नहीं दिखता।
इसके अलावा चांद को धकेलने के लिए टक्कर बहुत तेज गति के साथ होनी चाहिए। अब टक्कर काफी तेज होगी तो चांद के टुकड़े भी होंगे, तो जरूरी नहीं कि पूरा चांद धरती से टकराए। किस्मत की बात ये है कि निकट भविष्य यानी कुछ हजारों सालों तक ऐसी कोई संभावना नहीं है।

यह भी पढ़ें

क्षुद्र ग्रह की खोज कर चुकी है बनीता, पीएम मोदी ने किया सम्मानित

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीउदयपुर कन्हैयालाल हत्याकांडः कानपुर से आतंकी कनेक्शन, एनआईए की टीम जल्द जा कर करेगी छानबीनAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.