हमारे आस पास मौजूद हैं एलियन, वैज्ञानिकों को मिला रहस्मयी रेडियो संकेत !

द गार्जियन की रिपोर्ट के मुताबिक वैज्ञानिकों को ये संकेत उस वक्त मिले थे जब वे धरती के बाहर जीवन की तलाश कर रहे थे।

By: Vivhav Shukla

Published: 23 Dec 2020, 10:36 PM IST

नई दिल्ली। सूर्य के निकटतम तारे प्रोक्सिमा सेंचुरी (Proxima Centauri) की ओर से रहस्मयी रेडियो तरंगें (Radio Waves) मिलीं है। खगोलविदों का मानना है कि इन संकेतों से पता चलता है हमारे ब्रह्मांड में एलियन मौजूद हैं।

इजरायली वैज्ञानिक का सबसे बड़ा दावा! बोले- पृथ्वी पर छिपे हैं एलियंस, मंगल ग्रह पर बना रखा है गुप्त ठिकाना

द गार्जियन की रिपोर्ट के मुताबिक ये संकेत उस वक्त मिले थे जब वैज्ञानिक धरती के बाहर जीवन की तलाश कर रहे थे। साल 2019 के मई महीनों में पहली बार ऑस्ट्रेलिया के पार्केस टेलीस्कोप ने इन रहस्मयी रेडियो तरंगें का पकड़ा था। हालांकि तब इसके स्रोत का पता नहीं चल पाया था। रिपोर्ट के मुताबिक इन तरंगों की फ्रीक्वेंसी 980 मेगाहर्ट्ज था।हालांकि ये फ्रीक्वेंसी बेहद कम है लेकिन इसमें लगातार प्रॉक्सिमा सेंचुरी के तारे के ग्रह की गति विधि के साम्य बदलाव हो रहा था।

वैज्ञानिक ने उस वक्त इस संकेत को BLC1 (ब्रेकथ्रू लिसन) नाम दिया था। वैज्ञानिकों के मुताबिक ये पुख्ता तौर पर नहीं कहा जा सकता कि इस इन संकेतों को एलियन ने भेजा है लेकिन इसके चांसेज ज्यादा है। ये तंरगे बहुत अजीब हैं।

सौरमंडल में एलियन की दस्तक से वैज्ञानिक हैरान, सिगार के आकार के पत्थर को अजनबी ताकत दे रही धक्का

पेन स्टेट यूनिवर्सिटी की सोफिया शेख ने के मुताबिक ये साल 1997 में एम55 तारा समूह के इलाके के पास से आए संकेतों के बाद से सबसे अहम संकेत हैं। सोफिया बताती हैं कि ये अब तक का पाए गए सबसे रोचक संकेत हैं क्योंकि हमें इससे पहले हमारे फिल्टर्स में इतने सिग्नल जंप कभी नहीं मिला। हालांकि अभी इन संकेतों पर अतिरिक्त जांच करनी होगी।

एलियन के रहस्य को जानने में मिलेगी मदद, पेंटागन ने जारी किए तीन वीडियो

यूनिवर्सिटी के एक वैज्ञानिक बताते हैं कि ये संकेत एलियन्स आने वाले हो सकते हैं और इसकी संभावना प्रबल है। उनके मुताबिक पृथ्वी पर फोन पर सीधे संकेत नहीं आते है। हमारी गैलेक्सी में मौजूद एलियन हमसे संपर्क करने लिए संकेत भेज रहे हैं।

 

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned