फेसबुक के बाद अब 50 करोड़ लिंक्डइन यूजर्स का डेटा हो गया लीक

- डेटा ब्रीच नहीं, सेफ है प्राइवेट सदस्यों का डेटा ।
- 53.3 करोड़ फेसबुक यूजर का डेटा हो चुका लीक।
- यूजर का नाम, अकाउंट आइडी, ईमेल तक हो गए उजागर।

 

नई दिल्ली। फेसबुक के बाद अब एक और बड़े डेटा लीक की खबर सामने आई है। इस बार बिजनेस-जॉब सर्च कंपनी लिंक्डइन इसका शिकार बनी है। रिपोट्र्स के मुताबिक, माक्रोसॉफ्ट के स्वामित्व वाले पेशेवर नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म के करीब 500 मिलियन (50 करोड़) अकाउंट्स का डेटा एक हैकर फोरम पर बिक्री के लिए उपलब्ध है। रिपोर्ट के मुताबिक, लीक हुए डेटा में यूजर का नाम, अकाउंट आइडी, ईमेल एड्रेस, फोन नंबर, वर्कप्लेस की जानकारी, सोशल मीडिया अकाउंट्स के लिंक और जेंडर डीटेल्स शामिल हैं।

दो डॉलर में देख सकते हैं : रिपोर्ट में कहा गया है कि हैकर फोरम के उपयोगकर्ता 2 डॉलर के फोरम क्रेडिट की मदद से लीक किए गए नमूनों को देख सकते हैं। वहीं थ्रेट एक्टर कम से कम 4 अंकों वाली राशि के बिटकॉइन में 50 करोड़ से ज्यादा उपयोगकर्ताओं के डेटाबेस की नीलामी कर रहे हैं।

नकली जॉब ऑफर में मैलवेयर : सिक्योरिटी फर्म ई-सेंटायर की एक रिपोर्ट के मुताबिक साइबर क्रिमिनल नकली लिंक्डइन जॉब ऑफर में मैलवेयर छिपा रहे हैं। कंपनी की थ्रेट रिस्पांस यूनिट ने पाया है कि हैकर्स प्रोफेशनल सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर नकली जॉब ऑफर में मैलेशियर्स जिप फाइलों को नए तरीके से छुपा रहे हैं।

बदल लें पासवर्ड व ईमेल एड्रेस : रिपोर्ट में कहा गया है कि लीक हुए डाटा का इस्तेमाल टार्गेटेड फिशिंग अटैक, स्पैम 500 मिलियन ईमेल, फोन नंबर और लिंक्डइन प्रोफाइल और ईमेल एड्रेस के पासवर्डों को खंगालने के लिए के लिए किया जा सकता है। ऐसे में यूजर्स को यह सलाह दी जाती है कि वो अपने लिंक्डइन अकाउंट के पासवर्ड और अकाउंट से जुड़े ईमेल एड्रेस को बदल लें। साथ ही सभी आधिकारिक अकाउंट्स पर टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन इनेबल कर दें।

फेसबुक यूजर्स का डेटा भी हुआ था लीक : कुछ दिनों पहले, फेसबुक के 533 मिलियन यूजर्स के डेटा लीक की खबर सामने आई थी। जिसमें से करीब 61 लाख यूजर्स भारत से थे। ये डेटा एक हैकिंग फोरम पर मुफ्त में उपलब्ध था। इसमें फेसबुक ज्वाइन करने की तारीख, नाम, जेंडर, रिलेशनशिप स्टेटस और वर्कप्लेस का नाम जैसा डेटा शामिल था।

कंपनी: प्राइवेट सदस्यों का डेटा सेफ -
लिंक्डइन प्रवक्ता ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि लीक हुए डेटा को लिंक्डइन से स्क्रैप किया गया है। हम मामले की जांच कर रहे हैं। पोस्ट किया हुआ डेटा लिंक्डइन पर सभी को दिखने वाली जानकारी के साथ-साथ दूसरी वेबसाइट या कंपनियों से एग्रिगेट किया हुआ नजर आता है। प्रवक्ता ने कहा कि प्राइवेट सदस्यों का डेटा सेफ है।

हैकर फोरम पर बिक्री के लिए उपलब्ध -
स्क्रैप डेटा को एक लोकप्रिय हैकर फोरम पर बिक्री के लिए रखा गया है। हैकर्स ने लीक हुए 20 लाख रिकॉर्ड को नमूने के तौर पर पेश किया है। रिपोर्ट में लीक हुई 4 फाइलों में यूजर्स का पूरा नाम, ईमेल पते, फोन नंबर, कार्यस्थल समेत अन्य जानकारी स्क्रैप की है।

नंबर गेम -
दुनियाभर में लिंक्डइन प्लेटफार्म पर 74 करोड़ उपभोक्ता हैं।
भारत में 7.54 करोड़ लोग लिंक्डइन का उपयोग करते हैं।
लिंक्डइन पर 5.5 करोड़ कंपनियां हैं ।
यूरोप में 17.6 करोड़ यूजर अमरीका में 16.3 करोड़ यूजर।

विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned