रेफ्रिजेरेटर के आकार का एस्ट्रॉएड 2 नवंबर को टकरा सकता है पृथ्वी से

'एस्ट्रॉएड हर्लिंग 21' करीब 40233.6 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हमारी ओर आ रहा है

By: Mohmad Imran

Published: 22 Oct 2020, 06:19 PM IST

दुनिया के प्रसिद्ध खगोलविदों (astronomer) में से एक नील डीग्रसे टायसन का कहना है कि रेफ्रिजेरेटर के आकार का एक क्षुद्रग्रह (Asteroid) बहुत तेजी से पृथ्वी की ओर बढ़ रहा है और संभवत: 2 नवंबर को वह पृथ्वी के किसी हिस्से से टकरा सकता है। उन्होंने कहा कि 2018वीपी1 के नाम से जाना जाने वाला यह क्षुद्रग्रह वास्तव में 2018 के नवंबर के बाद से ही खगोलविदों के रडार पर है। हाल ही कैलिफोर्निया स्थित पालोमर वेधशाला ने इसकी वर्तमान लोकेशन के आधार पर इसके पृथ्वी से टकराने की आशंका जताई है। एस्ट्रोफिजिसिस्ट टायसन का कहना है कि यह रेफ्रिजेरेटर जितना बड़ा एक खगोलीय चट्टान है जो सीधे पृथ्वी की ओर आ रहा है। इसकी गति करीब 40233.6 किमी प्रति घंटा (25 हजार मील प्रतिघंटा) है। हालांकि पालोमर वेधशाला के खगोलाविदों का यह भी कहना है कि इस क्षुद्रग्रह का आकार वास्तव में इतना बड़ा नहीं है कि इससे पृथ्वी को कोई बहुत बड़ा नुकसान हो सकता हो।

रेफ्रिजेरेटर के आकार का एस्ट्रॉएड 2 नवंबर को टकरा सकता है पृथ्वी से

नासा ने भी साझा की जानकारी
इस क्षुद्रग्रह के बारे में नासा एस्ट्राएड वॉच यूनिट की ओर से ट्विटर पर कहा गया कि 2018वीपी1 वास्तव में बहुत छोटा है और केवल 6.5 फुट बड़ा है। इसलिए इससे पृथ्वी को कोई खतरा नहीं है। नासा के अनुसार इस क्षुद्रग्रह के हमारे वायुमंडल में प्रवेश करने की केवल 0.41 फीसदी ही संभावना है। बावजूद इसके अगर यह पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश कर जाता है तो सतह तक पहुंचने से पहले ही इसके हजारों टुकड़े हो जाएंगे। गौरतलब है कि इस साल दर्जनों खगोलीय घटनाएं सामने आई हैं। इनमें सबसे मशहूर हाल ही में 'टिक टाइम बमÓ स्टार का खोजा उजाना था जो सूर्य के आकार से भी लगभग 10 से 15 गुना बड़ा था।

Show More
Mohmad Imran
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned