अंतरिक्ष में रूसी रॉकेट फटने से हुआ धमाका, पृथ्वी में घूम रहें सैटेलाइट्स पर बढ़ा खतरा

  • Russian Rocket Breaks : हिंद महासागर के ऊपर रूसी अंतरिक्ष एजेंसी का रॉकेट फटा है
  • रॉकेट के फटने से इसके 65 टुकड़े हवा में तैर रहे हैं

By: Soma Roy

Published: 12 May 2020, 03:39 PM IST

नई दिल्ली। ब्रह्मांड (Universe) के रहस्य को सुलझाने के लिए ज्यादातर देशों ने अंतरिक्ष में अपने सैटेलाइट (Sattelite) लगा रखे हैं, लेकिन यही उपकरण धरती के वजूद के लिए खतरा बन गए हैं। इसका जीता जागता सबूत हिंद महासागर के ऊपर फटे रूसी अंतरिक्ष एजेंसी के रॉकेट के जरिए देखने को मिला। 8 मई को घटी इस घटना ने पृथ्वी के वजूद को खतरे में डाल दिया है। क्योंकि सैटेलाइट के 65 टुकड़े पृथ्वी के ऊपर घूम रहे हैं। ये अन्य सैटेलाइटों को भी तबाह कर सकते हैं।

रूसी अंतरिक्ष एजेंसी रॉसकॉसमॉस के अनुसार रूस के इस रॉकेट का नाम फ्रीगेट-एसबी (Fregate-SB) है। इसे साल 2011 में अंतरिक्ष में स्थापित किया गया था। यह रूस का जासूसी सैटेलाइट था, लेकिन इसने पिछले साल काम करना बंद कर दिया था। भारतीय समयानुसार यह रॉकेट सुबह 10.30 से 11.30 बजे के बीच हिंद महासागर के ऊपर क टूटा है। अब उसका कचरा धरती की कक्षा में तैर रहा है।

रूसी एजेंसी के मुताबिक रॉकेट का अगला हिस्सा टूटा है। वहीं अमेरिका का यूएस 18 स्पेस कंट्रोल स्क्वाड्रन का कहना है कि रॉकेट के टूटने के बाद उसके 65 टुकड़े देखे गए हैं, जो धरती के ऊपर चक्कर लगा रहे सैटेलाइट्स के लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं। अंतरिक्ष एजेंसी नासा और यूरोपियन स्पेस एजेंसी ईएसए भी रूस के इस रॉकेट के कचरे को ट्रैक कर रही है। जिससे खतरे को टाला जा सके।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned