एबीवीपी कार्यकर्ता बोले, सैकड़ों विद्यार्थियों से की धोखाधड़ी

एबीवीपी कार्यकर्ता बोले, सैकड़ों विद्यार्थियों से की धोखाधड़ी

Yogendra Kumar Sen | Publish: Mar, 14 2018 12:00:26 PM (IST) Sehore, Madhya Pradesh, India

पीएम कौशल विकास के नाम साइबेरिया क्रियेटिंग सालुशन में दे रहे कोचिंग, विद्यार्थियों को दिखाए सपने, जॉब प्लेसमेंट, अन्य वादों का दे रहे झूठा आश्वास.

सीहोर. एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने जिला कलेक्ट्रेट पहुंचकर कहा कि बस स्टैंड के पास संचालित साइबेरिया क्रियेटिंग सालुशन के संचालक ने पीएम कौशल विकास के नाम पर विद्यार्थियों से धोखाधड़ी की गई है। तीन दिनों के अंदर मामले की जांच कर कोचिंग को तत्काल बंद कर सख्त कार्रवाई नहीं करने पर एबीवीपी के कार्यकर्ता स्वयं कोचिंग में ताला जड़ देंगे।

एबीवीपी ने जिला प्रशासन के डिप्टी कलेक्टर आदित्य कुमार जैन को ज्ञापन में कहा कि बस स्टैंड रोड के पास साइबेरिया क्रियेटिंग सालुशन खजांची लाइन निवासी वरूण शर्मा पुत्र संजय शर्मा द्वारा संचालित की जा रही है। जिसमें प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के नाम पर छात्र छात्राओं को धोखाधड़ी कर प्रवेश दिया गया था। छात्र छात्राओं को डाटा एंट्री ऑपरेटर कोर्स के लिए नमांकित किया गया था।5 अगस्त 17 को 240 छात्र छात्राओं का रजिस्ट्रेशन किया गया। कोर्स की अवधि 110 दिन बताई गई थी।

इस दौरान कोचिंग संचालक ने प्रवेश देते समय छात्र छात्राओं से वादा किया था कि कोर्स पूरा होने पर सभी को सौ प्रतिशत जॉब प्लेसमेंट स्टेट बैंक,लोटस इलेक्ट्रॉनिक एवं पेटिएम जैसी कंपनियों में दिया जाएगा। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का प्रमाण पत्र पीएम के हस्ताक्षर के साथ दिया जाएगा।

विभाग संयोजक निखिल कुईया, प्रांत कार्यकारिणी सदस्य सत्यम राठौर, विकास खंड संयोजक लक्की सक्सेना, नरेंद्र मेवाड़ा, विशाल यादव,पंकज सोनी, योगेंद्र गौर, कृपाल दांगी, आकाश शर्मा हर्षित मेवाड़ा, आकाश शर्मा, तरूण गौर, मुकुल राठौर, कार्तिक गौर, तुषार सोनी, रितिश सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा कि संचालक ने कुछ प्रतिभावान छात्र छात्राओं को लेपटाप कम्प्यूटर एवं पांच हजार रूपए तक का नकद पुररूकार देने की बात कही गई थी लेकिन जब छात्र छात्राओं का नमांकन नही दिया गया,

उनकी परीक्षा नही ंली गई तब उन्होंने प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के मुख्य प्रदेश कार्यालय पर इसकी शिकायत दर्ज की।तब संबंधित अधिकारी ने बताया कि साइबेरिया क्रियेटिंग सालुशन के नाम से न तो कोई कोचिंग संस्थान सरकार द्वारा संचालित है और न न ही वह पर वरूण शर्मा के नाम का कोई पंजीयन मौजूद है। इस मामले में जिला प्रशासन का कहना हैकि मामले की शिकायत मिली है। जांच उपरांत कार्रवाई की जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned